बड़ा खुलासा: इक़बाल कासकर का दावा 2016 में भारत आई थी दाऊद की पत्नी

ठाणे क्राइम ब्रांच की कस्टडी में दाऊद के भाई इक़बाल ने जो खुलासा किया है वो तमाम सुरक्षा एजेंसियों की पोल खोलता है। अगर सूत्रों की मानें तो इक़बाल ने ये दावा किया है की साल 2016 में डॉन दाऊद इब्राहिम की पत्नी मेहजबीन इब्राहिम कासकर भारत आई थी और खुद इक़बाल ने उसे रिसीव किया था।इक़बाल ने दावा किया है की मेहजबीन अपने किसी रिश्तेदार के अंतिम संस्कार में शामिल होने आयीं थी। पूछताछ में इक़बाल से मिली इस जानकारी के बाबत ठाणे पुलिस के एक बड़े अधिकारी ने मीडिया को भी जानकारी दी। लेकिन कुछ ही घंटो में वो अपने बयान से पलट गए। उनके मुताबिक़ ये मुलाक़ात भारत या मुंबई में नहीं बल्कि दुबई में हुई थी।

ज़ाहिर है, अगर मोस्ट वांटेड दाऊद की पत्नी भारत आकर वापस भी चली गई तो तमाम ख़ुफ़िया एजेंसियां क्या कर रहीं थी? ये खबर बहार आते ही हड़कंप मच गया जिसके बाद अधिकारी को जवाब देना मुश्किल पड़ रहा था। अपने दिए इस बयान के महज़ कुछ ही घंटो में अधिकारी ने अपना बयान बदल दिया।उन्होंने जो नई जानकरी वो कुछ इस तरह से है।

दाऊद इब्राहिम कासकर की पत्नी मेहजबीन इब्राहिम कासकर से दुबई में इक़बाल कासकर का परिवार मिला था। पिछले साल जब मेहजबीन दुबई एक विजिट पर आई थी। उस वक़्त इक़बाल की पत्नी ने मेहजबीन की बात इक़बाल से कराई थी। इक़बाल ने उस वक़्त दाऊद के सेहत को लेकर मेहजबीन से जानकारी ली थी। मेहजबीन ने उसे बताया था की दाऊद बहुत ज़्यादा नशा करने लगा है। जिस वजह से हमेशा उसकी तबियत खराब रहती है। इसके बाद मेहजबीन ने उसकी दाऊद से बात कराई थी। इस बात चित के दौरान इक़बाल ने बड़े भाई दाऊद को नशा ना करने की हिदायत दी थी।

इतना ही नहीं इक़बाल ने पूछताछ में ये भी माना है की उसका भारत में रहने का मकसद भाई के धंदे की देख रेख करना है। दाऊद का अरबों रुपया यहाँ लगा है। उसने अलग अलग धंदो में अलग अलग तरीके से पैसा लगाया हुआ है। उसका काम है उन्हीं धंदो पर अपनी नज़र बनाये रखना।


Close Bitnami banner
Bitnami