बड़ी खूबसूरत है ये प्रेम कहानी- मुंबई में रचाई राहुल और ललिता ने शादी

मोहब्बत कभी चेहरा और खूबसूरती देख कर नहीं की जाती, बस हो जाता है। एक बार हो जाए तो आस पास सभी पूरी ज़िन्दगी महबूब के नाम। चाहे कितना भी अंधेरा क्यों न हो, प्यार की रौशनी उसे मिटा ही देती है। एसिड अटैक के कारण एक खूबसूरत लड़की ललिता को ज़िन्दगी मायूस और बदरंग दिख रही थी, लेकिन जब उसे राहुल का साथ मिला तो दुनिया फिर से सुन्दर दिखने लगी। और कल तमाम वर्जनाओं को तोड़ते हुए दोनों सात जन्मो के लिए एक दूसरे के हो लिए।

Image result for Lalita Acid Victim Marriage mumbai

राहुल और ललिता के प्यार की कहानी भी किसी फिल्मी स्टोरी से कम नहीं है। आमतौर पर किसी एसिड विक्टिम से शादी करना तो दूर कोई उसे देखने तक की हिम्मत नहीं कर पाता है। लेकिन इस प्रेम कहानी में सब बदला बदला सा था। राहुल और ललिता की ज़िन्दगी एक रॉन्ग नंबर ने बदल दी।  

एसिड पीड़िता ललिता करीब 4 महीने पहले अपने किसी रिश्तेदार को फोन लगा रही थी। मगर किस्मत ने उसके लिए कुछ सोंच रखा था। ललिता का फ़ोन गलती से गलती से मालाड के रहने वाले राहुल कुमार उर्फ़ रवि को लग गया। धीरे दोनों के बीच बाते होने लगी और फिर प्यार हो गया। ललिता राहुल को धोका देना नहीं चाहती थी और उसने अपनी एलियट बता दी। ललिता ने अपने बारे में सब कुछ राहुल को बता दिया की मेरा चेहरा जला हुआ है मै बेहद बदसूरत हूँ।

Image may contain: one or more people, people standing and stripes

Image may contain: 1 person, standing and sitting

राहुल ने उसे ये याद दिलाया की उसने उसके चेहरे से मोहब्बत नहीं किया है बल्कि उसे उस ललिता से प्यार हुआ है जिसकी आवाज़ बेहद सुन्दर जो दिल से बेहद खूबसूरत है। इसके बाद राहुल ने ज़रा भी देर नहीं की और अपने माता पिता के साथ लड़की से मिलने के लिए उसके घर ठाणे के कलवा पहुंचा गया। 

ललिता को देखते ही उसने कहा की “मैं तो आपसे मोहब्बत करता हूं आपके सूरत से नहीं” शादी आप से ही करुंगा। फिर क्या था राहुल के घरवालों ने भी हामी भर दी और इस तरह एक रॉंग  नंबर ने ललिता की जिंदगी बदल दी।

ललिता को राहुल के तौर पर एक समझदार जीवन साथी मिला है और कल दोनों मुंबई में शादी के बंधन में बंध गए। 27 साल के राहुल ने 26 साल की ललिता को सदा के लिए अपना बना लिया। 


Close Bitnami banner
Bitnami