बीएमसी सड़कों के मैनहोल में सुरक्षा जाली लगाने का विचार कर रही है

मुंबई में हुई आफत की बारिश और डॉक्टर दीपक अमरापुरकर की सड़कों पर खुले मैनहोल में गिरकर हुई मौत के बाद लोगों ने बीएमसी से सड़कों पर जाली लगाने की अपील कर रहे है। मनपा में समाजवादी पार्टी के नेता रईस शेख से भी कुछ लोगों ने मिलकर यही मांग की जिसके बाद रईस शेख ने लोगों को आश्वासन दिया की वो जल्द ही इसपर बीएमसी में चर्चा कर मैनहोल में जाली लगवाए जाने की बात कही।

बता दे की मुंबई में बीच सड़कों पर 67 हजार 707 मैनहोल है। अगर बीएमसी मैनहोल में लोखंड की जाली लगाती है तो इसके दो फायदे होंगे। एक जो कचड़ा है जाली में अटक जाएगा और दूसरा अगर सड़क पर पानी भरता है और कोई मैनहोल में गिरता है तो जाली में अटक जाएगा।

29 अगस्त को मुंबई में हुई बारिश में बॉम्बे अस्पताल के डॉक्टर दीपक अमरापुरकर एल्फिंस्टन में पैदल चलकर अपने घर जा रहे थे तभी उन्हें अंदाज़ा नहीं मिला और वो खुले मैनहोल में गिर गए। जिसके बाद डॉक्टर की मौत का जिम्मेदार बीएमसी है इस माने के लिए हिघ्कोर्ट में याचिका भी दायर की गई थी।

देखें तसवीरें ​


Close Bitnami banner
Bitnami