बिल्डिंग के मलबे में फंसी हैं जिंदगियां, अंदर से लगा रही हैं बचाने की गुहार

शहर के भिंडी बाजार इलाके में बनी 117 साल पुरानी 5 मंजिला बिल्डिंग गुरुवार सुबह 8:30 बजे ताश के पत्तों की तरह भरभराकर गिर पड़ी। इस बिल्डिंग को साल 2011 में ही खाली करने का आदेश दिया गया था। इस दुर्घटना में अब तक 16 लोगों की मौत और 22 लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। घायलों में कई की हालत गंभीर है इसलिए माना जा रहा है कि मरने वालों की संख्या बढ़ भी सकती है। बिल्डिंग के मलबे में अभी भी कई लोग फंसे हुए हैं और फोन कर बचाने की गुहार लगा रहे हैं। 2011 में दिया गया था खाली करने का आदेश…

– मुंबई बीएमसी की ओर से बताया गया है कि,अर्शीवाला नाम की यह इमारत साउथ मुंबई के भिंडी बाजार में है। हादसा करीब सुबह 8:30 बजे हुआ। बताया जा रहा है कि इसमें 13 परिवार रह रहे थे।
– साल 2011 में इसे खाली करने का नोटिस दिया गया था। रीकन्सट्रक्शन स्कीम के तहत इसका रेनोवेशन होना था।
– साल 2013-14 में यहां से 7 फैमिली को दूसरी जगह शिफ्ट किया गया था। पिछले सप्ताह भी एक फैमिली ने इस बिल्डिंग को छोड़ा था।
मलबे के नीचे जिंदा हैं लोग
– ताजा जानकारी के मुताबिक अभी भी कई लोग मलबे में फंसे हैं और अंदर से अपने परिजनों को फोन कर बचाने की गुहार लगा रहे हैं।
इस कारण हुई दुर्घटना
– स्थानीय लोगों के मुताबिक, इस इमारत की पहली या दूसरी मंजिल में कंस्ट्रक्शन का काम चल रहा था। हालांकि, लोकल एडमिनिस्ट्रेशन ने इसकी पुष्टि नहीं की है। इसके आसपास रहने वालों ने भी बताया कि बिल्डिंग ठीक हालात में थी। देखकर ऐसा नहीं लगता कि वह गिर जाएगी।
– भिंडी बाजार एक मुस्लिम बाहुल्य इलाका है। अंडरवर्ल्ड डॉन दाउद इब्राहम का बचपन इसी इलाके में बीता। जिस जगह यह बिल्डिंग गिरी है वहां से कुछ दूरी पर दाऊद का घर है।
मुंबई में ऐसी कितनी खतरनाक बिल्डिंग हैं?
– बृहन्मुंबई म्युनिसिपल कार्पोरेशन (बीएमसी) ने पूरी मुंबई में 625 इमारतों को खतरनाक घोषित कर उन्हें खाली करने का नोटिस दिया हुआ है।
– इन इमारतों में रहने वाले लोगों का कहना है कि, बिल्डर बीएमसी के अधिकारियों से साठगांठ कर इस तरह के नोटिस देते हैं। ताकि लोग इमारत खाली कर दें और वे इनकी जगह दूसरे फ्लैट्स बना कर महंगे दामों में बेंच सकें। इसके अलावा लोगों को एक डर यह भी सताता है कि मुंबई जैसे शहर में घर की कीमत करोड़ों में है। अगर यहां घर छोड़ दिया तो वे फिर से दूसरा घर नहीं खरीद सकेंगे। इसलिए ज्यादातर लोग इन घरों को खाली नहीं करते।
एक महीने में दूसरा हादसा
– 26 जुलाई को घाटकोपर में 4 मंजिला इमारत गिरने से 17 लोगों की मौत हो गई थी। इस इमारत मे करीब 12 परिवार रहते थे।
– इसके ग्राउंड फ्लोर में अस्पताल चल रहा था। यह इमारत बीएमसी के खतरनाक इमारतों की सूची में शामल थी।
– बीएमसी के मुताबिक, 617 बिल्डिंग फिलहाल मुंबई में जर्जर हाल में हैं। कई मकानों को गिराने का नोटिस भी दिया गया है।

Close Bitnami banner
Bitnami