कैमरे में क़ैद हुई `जानलेवा सेल्फी

मुंबई से सटे पालघर में एक युवक के लिए सेल्फी लेना जानलेवा साबित हुआ। युवक अपने दोस्तों के साथ घूमने गया था और  नशे की हालत में झरने में उतारकर सेल्फी लेना चाहता था। लेकिन उसकी यही सेल्फी उसकी आखिरी फोटो साबित होती। सेल्फी का शौक और उसका क्रेज उनकी जिंदगी पर इस कदर भारी पड़ा कि इस चक्कर में सात लोग डूबते डूबते बच गए। लेकिन ये पूरा हादसा कैमरे में क़ैद हो गया। 
घटना पालघर की है, जहाँ 22 वर्षीय एक युवक अपने दोस्तों के साथ तुंगारेश्वर घूमने गया था। वहीँ उसने खूब मौज मस्ती की और जमकर शराब पी, फिर सारे दोस्त नशे की हालत में ही झरने में सेल्फी लेने के लिए उतर गए। इसी बीच युवक खुद को संभाल नहीं पाया और डूबने लगा। युवक को डूबता देख दूसरे ग्रुप के साथ घूमने आये रिंकू मिश्रा नाम के लड़के की उसपर नज़र पड़ी और वो उसे बचाने के लिए कूद पड़ा। 
डूबते युवक को बचाने के चक्कर में खुद रिंकू भी डूबने लगा  लगा था। उसकी मानें तो वहां मौजूद लोग ये पूरी घटना अपने मोबाइल में क़ैद तो करते रहे, मगर उसकी मदद के लिए कोई आगे नही आया। रिंकू ने अपनी ज़िन्दगी की परवाह किये बिना एक जान बचाई है। उसने खुद कि परवाह ना करते हुए डूबते युवक को बड़ी मुश्किल से तालाब से बाहर निकालने में कामयाब हुआ। जिसके बाद उसके दोस्तों ने उसे मुँह के द्वारा सास देकर उसकी जिंदगी बचाई।
जिस जगह पर ये घटना घटी है इसी जगह पर पहले भी कई युवकों की डूबने से मौत हुई है। उसके बावजूद भी इस जगह पर सुरक्षा के कोई इंतजाम नही किए गए हैं।

Close Bitnami banner
Bitnami