चाँद और प्रियंका को रमज़ान में मिली ईदी

वसई के इस जोड़े पूजा पांडे-शेख और चांद शेख को रमज़ान के इस पाक महीने के ख़त्म होने से पहले ही उनकी ईदी मिल गई है। पूरे पांच महीने के बाद उन्हें उनके बच्चे की कस्टडी मिल गई है,जिसे हासिल करने के लिए दोनों दर दर भटक रहे थे

बच्चे की कस्टडी मिलने के बाद दोनों कहते है, बेहद पाक महीने में उन्हें उनका बच्चा वापस मिला है।ये ऊपर वाला का करम है,उन्होंने हमारे रोज़े का सिला दिया है।उन्हें सीधा अल्लाह मिया ने ईदी दी है जो बेशकीमती है।

चाँद और प्रियंका की कहानी भी किसी फिल्म से कम नहीं है। अलग अलग धर्मों के इस जोड़े को पहले एक दूसरे से प्यार हुआ ,फिर भाग के शादी की लड़की के परिवार वाले ने लड़के को सलाखों के पीछे यानी जेल भिजवा दिया और इस बीच प्रियंका कम उम्र में माँ बन गई मगर उसके बच्चे को अनाथाश्रम भेज दिया गया लेकिन इतनी मुसीबतों के बाद भी दोनों ने हिम्मत नहीं हारी। साल भर चाँद जेल से छूटा और तब तक प्रियंका भी बालिग़ हो गई थी और फिर दोनों ने अपने बच्चे को हासिल करने की लड़ाई शुरू की।

ये भी पढ़ें: 

प्यार, जेल, बच्चा और अब … !

पूजा पांडे दूसरे धर्म की लड़की थी और चांद शेख मुसलमान, इसी बीच दोनों में प्यार हो गया।  चार साल तक दोनो के बीच प्रेम संबंध रहा, इसी दरमियान लड़की प्रेग्नेंट हो गई। लेकिन पूजा की उम्र उस वक्त पंद्रह साल थी और वो नाबालिग थी। समाज के डर से दोनों घर छोड़कर भाग गए लेकिन पुलिस का दबाव बढ़ा तो लौटकर आना पड़ा। जिसके बाद लड़की के परिवार की शिकायत पर लड़के को बलात्कार के आरोप में जेल भेज दिया गया। इस बीच पूजा ने एक बच्चे को जन्म दिया लेकिन उसके परिवार और पुलिस के दबाव में बच्चा आश्रम पहुँच गया। दोनों ने काफी कोशिश की पुलिस से लेकर मानवाधिकार संघठन तक गुहार लगाईं लेकिन उनकी कहीं सुनवाई नहीं हो रही थी फिर भी दोनों ने हार नहीं मानी और अदालत गए और बताया की दोनों बालिग़ है,और अपनी मर्ज़ी से शादी की है उन्हें उनका बच्चा वापस दिया जाए।

 


Close Bitnami banner
Bitnami