कांग्रेस नेता के घर और दफ्तर पर ईडी का छापा

बांद्रा से कांग्रेस के पूर्व विधायक और मंत्री बाबा सिद्दीक़ी के पांच ठिकानों पर प्रवर्तन निदेशालय ने एक साथ छापेमारी की है। बाबा पर आरोप है की, उनकी कंपनी ने एक दूसरे बिल्डर रफीक कुरैशी के साथ मिलकर फर्जी कागजात के सहारे स्लम रेहाबिलेशन स्कीम के तहत 100 करोड़ का गबन किया है।    

आरोप है की बाबा और उनके दोस्त रफीक कुरैशी पर बांद्रा के स्लम एरिया के विकास के नाम पर इमारतें तो बनाई गयी लेकिन उसे निजी लोगों के हांथो बेच दिया गया। ये पूरा घोटाला 100 करोड़ से ज्यादा का है। बाबा सिद्दिक्की पर आरोप है की इस घोटाले की बड़ी राशि उनको दी गयी है।  इसका खुलासा भी तब हुआ जब प्रवर्तन निदेशलय ने बिल्डर रफीक कुरैशी के घर और दफ्तर पर छापेमारी की थी। उसी छापेमारी के दौरान बाबा की कंपनी को किए पैसे के भुगतान के कई कागज मिले थे। आरोप के मुताबिक, बाबा और रफीक ने फर्जी कंपनी बना कर और फर्जी दस्तावेज पेश कर 100 करोड़ का गबन किया।

बाबा सिद्दीक़ी कांग्रेस-एनसीपी की सरकार में गृह निर्माण राज्य मंत्री भी रह चुके हैं। उनके खिलाफ 2016 से ही ईडी एसआरए प्रोजेक्ट के तहत बने घरो के अनियमिता की जांच कर रही है। इस मामले में महाराष्ट्र सरकार ने भी जांच कमिटी बनाई थी जो अब भी जांच का काम कर रही है। बाबा सिद्दीकी 2004 से 2008 तक महाराष्ट्र सरकार में फ़ूड एंड सिविल सप्लाय राज्य मन्त्री भी थे, और 2000 से 2004 तक म्हाडा रिपेयर बोर्ड और स्लम बोर्ड के चैयरमैन भी थे। इसके अलावा बाबा सिद्दीकी की खुद की कंस्ट्रक्शन कंपनी भी है जिसके खिलाफ पहले से ही मनी लॉन्ड्रिंग मामले की जांच चल रही है।

ये वही बाबा सिद्दीक़ी हैं,  जिन्हें सलमान खान और शाहरुख़ का बेहद करीबी माना जाता है। अपने इफ्तार पार्टी के लिए मशहूर कांग्रेस नेता बाबा सीद्दीक़ी ने दोनों की दोस्ती कराई थी। बाबा इकलौते ऐसे नेता हैं जिन्हें बॉलीवुड का बेहद करीबी भी माना जाता है।


Close Bitnami banner
Bitnami