दो आदमखोर तेंदुए ने फिर किया हमला,2 महिलाएं घायल

मुंबई के आरे कॉलोनी में एक बार फिर खतरनाक तेंदुए ने दो लोगों को शिकार बनाने की कोशिश की है। इस हमले में दो महिलाएं बुरी तरह घायल हो गईं। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। ये दोनों महिला अपने घर से निकलीं थीं तभी तेंदुए ने हमला बोला था। इलाके के लोग दुर्गा विसर्जन के लिए गए थे तभी मौका पाकर खूंखार आदमखोर ने हमला किया था।

मामला आरे कॉलोनी यूनिट 17 का है, जहाँ आसपास के सभी लोग शाम को दुर्गा विसर्जन में चले गए थे। कॉलोनी मे बिल्कुल सन्नाटा था। इसी का फायदा उठाककर 2 तेंदुए यूनिट नंबर 17 में आ घुसे। 55 साल की आशा बाई गावित जब पास में शौचालय के लिए रात 8 बजे गई हुई थी। तभी गावित पर एक तेंदुए ने हमला कर दिया। लेकिन जैसे ही महिला पर तेंदुए ने झपटा महिला अपने घर की तरफ भागी। इससे पहले की वो घर में घुस पाती उनके घर के ठीक बाहर मौजूद दूसरा तेंदुए ने महिला को घेर लिया। लेकिन गनीमत रही की महिला के द्वारा पाले गए 2 कुत्ते शेरू और मोती मौके पर मौजूद थे। दोनों कुत्तों ने पहले तो तेंदुए से लड़ने की कोशिश की, लेकिन उसके बाद भी तेंदुए ने महिला के ऊपर कई हमले किये।

डरी हुई महिला ने जब खुद को बचाने के लिए चिल्लाना शुरू किया तो दूसरी महिला आशा गावित को बचाने आई। तेंदुए ने उस महिला पर भी हमला कर उसे घायल कर दिया। तब तक एक बुज़ुर्ग की उनपर नज़र पड़ी और उन्होंने ने दूर से ही तेंदुओं पर पत्थर चलना शुरू कर दिया। जिससे डरकर दोनों तेंदुए भाग गए। आरे पुलिस ने दोनों घायल महिलाओं को जोगेशरी के ट्रामा केयर हॉस्पिटल भर्ती कराया जहाँ अब दोनों की हालत खतरे से बाहर है।

 


Close Bitnami banner
Bitnami