एक टीचर ने बर्बता की सारी हदे पार की, ढाई साल के मासूम बच्चे को बेहरहमी से पीटा

रयान इंटरनेशनल स्कूल में सात साल के बच्चे प्रदुमन के मर्डर के बाद देश भर में स्कूलों में बच्चों के सुरक्षा को लेकर चर्चा जोरों पर है। ऐसे में पुणे से एक बेहद ही चौकाने वाला मामला सामने आया है। जहाँ एक ट्यूशन टीचर ने ढाई साल के बच्चे की बेरहमी से पिटाई कर दी। टीचर ने बच्चे की पिटाई इतनी बेहरहमी से की है कि बच्चे के दोनों आँख में काफी सूजन आ गया है। और आँखे नीली पड़ गयी है। घरवालों कि शिकायत के बाद पुलिस ने आरोपी टीचर भाग्यश्री 30 को गिरफ्तार कर लिया है।

घटना 11 सितम्बर की है। पुणे के पिंपले गांव में भाग्यश्री नामक महिला टूशन पढ़ाती थी।  टीचर ने ट्यूशन में पढ़ने वाले एक ढाई साल के बच्चे की लकड़ी के स्केल से बेहरमी से पिटाई कर दी। टीचर ने बच्चे की पिटाई क्यों की इसकी वजह साफ़ नहीं है। टीचर की पिटाई मासूम बच्चा बुरी तरह जख्मी हो गया है। उसके दोनों आँख और पुरे चेहरे पर सूजन है। जिसकी वजह से वो देख भी नहीं पा रहा है। बच्चा जब घर पहुंचा तब उसके चेहरों पर सूजन देख बच्चे के माता पिता डर गए। उन्होंने निर्दयी ट्यूशन टीचर के खिलाफ सांगवी पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई है।

शिकायत मिलने के बाद सांगवी पुलिस टीचर के खिलाफ मारपीट और बच्चे के साथ अत्याचार का बाल न्याय अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर आरोपी टीचर को गिरफ्तार कर लिया है। और उसे आज कोर्ट में पेश करेगी।

 


Close Bitnami banner
Bitnami