फिर मुंबई से लापता हुआ एक छात्र, कंप्यूटर पर मिला हैरान करने वाला वीडियो

मुंबई के माहिम इलाके से करीब डेढ़ महीने पहले लापता हुए छात्र अशरफ की गुमशुदगी कुछ कुछ समझ आने लगी है। फिलहाल गुमशुदगी के इस मामले की जांच महाराष्ट्र एटीएस के साथ ख़ुफ़िया एजेंसियां भी कर रही है। और अब तक की जांच में जो तथ्य सामने आये हैं वो न सिर्फ अशरफ के परिवार को हैरान करने वाला है बल्कि खुद महाराष्ट्र एटीएस भी परेशान हैं। इस मामले में महाराष्ट्र एटीएस ने साइबर चालक को लेकर उससे कई घंटों की लंबी पूछताछ की है।

ओल्ड माहीम इलाके में रहने वाला एक 20 साल अशरफ अपनी मां और बहन के साथ ओल्ड माहीम इलाके में रहता है। 28 फरवरी को उसका बारहवीं का एग्जाम था, लेकिन  27 की रात वघरवालों से ये कहकर निकला की वह पास के दुकान से कुछ सामान लाने जा रहा है। देर रात हो गई लेकिन वो वापस ही नहीं लौटा। जिसके बाद पुलिस ने स्थानीय माहिम पुलिस स्टेशन में गुमशुदगी दर्ज करा दी। अशरफ के परिवार वालों का कहना है कि, उन्हें सहक है की वो असमाजिक तत्वों के चक्कर में फंसकर बड़ी मुसीबत में घिर गया है। उसके पास पैसे तक नहीं है मगर इंस्टाग्राम के ज़रिये उससे एक दो बार बात ज़रूर हुई है। 

पुलिस जांच में सामने आया की अशरफ कई कई घंटो साइबर में रहता था। जिसके बाद साइबर मालिक और अशरफ के दोस्त शाकिब को हिरासत में लिया गया। मामले की जांच कर रही टीम से जब कंप्यूटर की जांच की और साकिब से पूछ ताछ की तो सामने आया की, अशरफ साइबर में बैठकर घंटो आईएसआईएसआईएस का वीडियो देखा करता था।  

महाराष्ट्र एटीएस कई टीमें बनाकर इस मामले की जांच कर रही, उनकी मानें तो चुकी अशरफ के अब तक सौ दोस्तों से पूछताछ हुई है। साइबर सेल की मदद से उसके सारे सोशल अकाउंट्स की भी जांच की जा रही है. वो किसके समपर्क में था और किन किन लोगों से बात करता था। 

अशरफ के चाचा फ़ैयाज़ ने बताया की, उसका इस तरह से साइबर में बैठकर ऐसे वीडियो का देखना पूरे परिवार को हैरान करने वाला है। अगर उसने कोई भी गलत काम किया तो परिवार उसे कभी नहीं अपनाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि, अशरफ जहाँ भी हो लौट आये उसकी माँ और बहन का वही सहारा है। उसके गायब होने के बाद उसकी मां को हाॅस्पिटल में भर्ती करना पड़ा था, घर के हालात भी बिगड़ गयी हैं।


Close Bitnami banner
Bitnami