फिर निशाने पर है

संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती एक बार फिर निशाने पर है। इस बार महाराष्ट्र के कोल्हापुर में कुछ अज्ञात लोगों ने आग लगा दी । फिलहाल फिल्म की शूटिंग पूरी तरह रोक दी गई है। इस घटना के बाद कोल्हापुर पुलिस आरोपियों तलाश में जुट गयी है , सूत्र बताते हैं की हंगामा करने वाले कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया है। 

padmawati film protest

घटना देर रात की है, सेट पर मौजूद लोगों के मुताबिक करीब 40-50 लोग कोल्हापुर के मसाई पठार में बने सेट पर पहुंचे और ज़ोर ज़ोर से नारेबाजी करते हुए वहां खड़ी गाड़ियों में तोड़फोड़ शुरू कर दी। सभी उपद्रवियों के हाथों में डंडे और पत्थर थे। इतना ही नहीं सेट को आग के हवाले कर दिया गया, किसी तरह सेट पर मोजूद लोगों ने आग पर काबू पाया। हालांकि इस आग से सेट का एक बड़ा हिस्सा जलकर बर्बाद हो गया है । प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक वमौजूद लोगों के साथ भी काफी मारपीट की गयी जिससे एक सुरक्षाकर्मी गंभीर रूप से घायल हो गया है।

हालांकि मामला सामने आने के पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में लेने का दावा किया है। वहीँ दूसरी तरफ अब इस मामले पर राजनीती भी शुरू हो गयी है। राष्ट्रवादी कांग्रेस एमएलए जितेंद्र आह्वाड ने इस घटना की निंदा करते हुए कहा है कि, “हम ऐसी घटना की कड़े शव्दों में निंदा करते हैं। हम महाराष्ट्र सरकार से मांग करते हैं कि दोषियों पर जल्द से जल्द कड़ी कार्रवाई की जाए।”

इससे पहले 27 जनवरी को भी जयपुर में भी फिल्म पद्मावती की शूटिंग के दौरान करणी सेना के प्रदर्शनकारियों ने संजय लीला भंसाली के साथ मारपीट की और सेट पर तोड़फोड़ की थी। उनका आरोप था कि भंसाली फिल्म में रानी पद्मिनी का गलत चित्रण कर रहे हैं। 


Close Bitnami banner
Bitnami