SBI की रिपोर्ट ने किया चौंकाने वाला खुलासा, अगस्त में आ सकती है कोरोना की तीसरी लहर, सितंबर में चरम पर पहुंचेंगे मामले

स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (State Bank of India) की एक रिपोर्ट ने देश में कोरोना वायरस की तीसरी लहर (Coronavirus Pandemic) को लेकर चौंकाने वाला खुलासा किया है. एसबीआई (SBI) की रिपोर्ट कोविड-19ः द रेस टू फिनिशिंग लाइन (Covid-19: the race to finishing line) के मुताबिक़ भारत में कोरोना वायसरस की तीसरी लहर अगस्त में दस्तक दे सकती है और सितम्बर में अपने चरम पर होगी.

एसबीआई की एक रिपोर्ट में आशंका जताई गई है कि भारत में जुलाई के दूसरे सप्ताह में कोविड-19 के प्रति दिन दस हजार मामले सामने आ सकते है. साथ ही मामलों में अगस्त के दूसरे पखवाड़े में बढ़ोत्तरी की बात कही गई है. ग़ौरतलब है कि कोरोना की दूसरी लहर में 7 मई को मामले अपने चरम पर थे.

रिपोर्ट के मुताबिक, वैश्विक आंकड़ों से पता चलता है कि औसतन तीसरी लहर के दौरान पहुंचने वाले चरम मामले कोरोना वायरस की महामारी की दूसरी लहर से करीब दो या 1.7 गुना हो सकते हैं.

कोरोना महामारी की दूसरी लहर कमजोर पड़ने के दौरान ही ज़्यादातर विशेषज्ञों ने देश में कोरोना वायरस की तीसरी लहर की आशंका जताई थी.

जून में प्रकाशित एक एसबीआई रिपोर्ट के मुताबिक, कोरोना वायसरस की एक संभावित लहर दूसरी लहर जितनी ही गंभीर हो सकती है, लेकिन कोरोना वायरस से संबंधित मौतों की संख्या दूसरी लहर की अपेक्षा कम होगी.

आपको बता दें कि देश में कोरोना की दूसरी लहर अप्रैल और मई में अपने चरम पर थी. देश ने इस अवधि के दौरान दैनिक संक्रमण और दैनिक मौतों की रिकॉर्ड संख्या देखी. साथ ही ऑक्सीजन संकट से भी देश जूझ रहा था. इसके बाद लगाई गई पाबंदियों के कारण दैनिक मामलों में कमी आई है, लेकिन कई राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में पाबंदियां हटाई जा रही हैं.


Close Bitnami banner
Bitnami