जेल में तड़पा तड़पा कर की गई थी महीला क़ैदी की पिटाई

महीला क़ैदी के मौत के मामले में चौंकाने वाला ख़ुलासा हुआ है। उसकी ना सिर्फ पिटाई हुई थी बल्कि बर्बरता से गुप्तांग में लाठी भी डाला गया था। ख़ुलासा चश्मदीदों के बयान और पोस्टमार्टम रिपोर्ट से हुआ है। इतना ही नहीं जेजे अस्पताल के डीन के मुताबिक़ महीला क़ैदी के शरीर पर गहरे चोट के निशान थे। उसके साथ इतनी बर्बरता किया गया था की फेफड़ा तक डैमेज हो गया था।

तफ्तीश में जो जानकारी निकल के सामने आ रही है वो बेहद ही चौकाने वाली है। चश्मदीद और महिला कैदियों द्वारा दर्ज किये गए बयान के मुताबिक महिला कैदी की बेहरहमी से पिटाई सिर्फ और सिर्फ दो अंडे और पांच पाव के लिए की गयी थी। उसके बाद महिला पुलिस कर्मचारियों द्वारा उसके साथ लैंगिक अत्याचार करने की बात सामने आयी है। 

ये भी पढ़ें :​

भायखला जेल में जेलर की पिटाई से महिला कैदी की मौत

चश्मदीद कैदियों के मुताबिक महिला कैदी मंजुला को जेल में अच्छे व्यवहार के चलते उसे बैरक का प्रबंधक बना दिया था। सुबह जेल प्रशासन ने नास्ता बांटने की जवाबदारी मंजुला को दि थी। पुलिस ने दो अंडे और पांच पाव का मंजुला से हिसाब माँगा। हिसाब नहीं दे पाने से जेलर ने उसे अपने केबिन में बुलाकर उसकी पिटाई कर दी। उसके बाद जब मंजुला अपने बैरक में आयी तो पांच महिला कांस्टेबल ने मिलकर वापस उसकी पिटाई की एक महिला कांस्टेबल ने उसके गुप्तांग में लाठी डाल दी।  उसके बाद वो गंभीर रूप से जख्मी होकर जमीं पर गिर गयी। फिर उसे उपचार के लिए जेल डॉक्टर के पास ले जाया गया गंभीर जख्मी होने के नाते डॉक्टर ने महिला कैदी को जेजे अस्पताल भेजा जहाँ उसकी इलाज के दरम्यान मौत हो गयी।  

जेजे अस्पताल के डीन ने बताया की पोस्टमॉर्टेम रिपोर्ट के मुताबिक महिला कैदी मंजुला के शरीर में 10 से 12  जगह गंभीर चोट लगी है। उसका फेफड़ा पूरी तरह डैमेज हो गया है।  

पुलिस में भायखला जेल में जेलर की पिटाई से हुई महिला कैदी की मौत के मामले में नागपाड़ा पुलिस ने जेलर सहित 5 महिला कांस्टेबल के ऊपर हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।  

इसके साथ पुलिस ने 200 अन्य महिला कैदियों के ऊपर जेल में उत्पाद मचाने का मामला दर्ज किया है। इन 200  महिलाओ कैदी में शीना बोरा हत्याकांड की आरोपी इन्द्राणी मुखर्जी भी शामिल है। इस मामले में नागपाड़ा पुलिस ने जेलर सहित 5 महिला कांस्टेबल के ऊपर हत्या का मामला दर्ज कर मामले की जाँच कर रही है। 


Close Bitnami banner
Bitnami