खबरियों ने डबल क्रॉस किया, ट्रैप हुए जवान

A paramilitary trooper patrols a road at Lalgarh in the West Midnapore district, some 170 km (106 miles) west of the eastern Indian city of Kolkata, June 22, 2009. India’s government on Monday banned and formally labelled Maoist insurgents a terrorist group, hoping it would give security forces more enforcement powers after the rebels briefly created a “liberated zone” in eastern India. REUTERS/Jayanta Shaw (INDIA CONFLICT POLITICS MILITARY) – RTR24X00

महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में नक्सलियों ने एक बार फिर हमला बोला है। हमला पेट्रोलिंग में लगे सी-60 कोबरा कमांडो की टीम किया गया था। इस नक्सली हमले में एक जवान शहीद हो गया और जबकि 11 जवान गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। हमले के बाद नक्सलियों की धार पकड़ के लिए पूरे इलाके में अभी भी काॅम्बिंग आॅपरेशन जारी है। नक्सलियों ने सी-60 कोबरा कमांडो टीम पर ये हमला भमरागढ़ इलाके में अंजाम दिया। 

सूत्रों की मानें तो इस बार जवानों को खबरियों ने गुमराह कर जंगल की तरफ ले गए थे। जहाँ पहले से नक्सली घात लगाकर बैठे थे। जैसे ही टीम उस इलाके में पहुंची नक्सलियों ने उन पर हमला बोल दिया। सीआरपीएफ के जवानों ने जवाबी फायरिंग की तो नक्सली जंगलों की आड़ लेकर फरार हो गए। इस हमले में 12 जवान गंभीर रूप से घायल हो गए थे। जिनमे से एक सुरेश तेलामी की इलाज के दौरान मौत हो गई।

अधिकारियों के मुताबिक, सी-60 कोबरा कमांडो टीम भामरागढ़ में कोपर्सी के जंगलों में नक्सलियों के मूवमेंट की जानकारी मिली थी। जिसके बाद सीआरपीएफ और डीएफ के जवान कॉम्बिंग करने के लिए निकले थे।

महीने भर के अंदर ये दूसरा बड़ा मामला है जब नक्सलियों ने सीधा हमला बोला है। इससे पहले  24 अप्रैल को सुकमा में नक्सलियों ने सीआरपीएफ की 74th बटालियन पर हमला किया था। इस हमले में 25 जवान शहीद हो गए थे।


Close Bitnami banner
Bitnami