लालबाग़ के बाद अब भारत पाकिस्तान बॉर्डर के राजा की धूम

जब भी गणेश चतुर्थी का त्यौहार आता है तो लोग लालबाग के राजा का नाम पहले लेते हैं। मगर क्या आपको पता है कि, एक और राजा है जिनका नाम मुंबई से कश्मीर तक मशहूर हैं। कश्मीर में भी इस त्यौहार को बड़े धूमधाम से मनाते है। हर साल कश्मीर के शिव दुर्गा भैरव ट्रस्ट मुंबई से गणेश मूर्ति लेके जाती है। इस बार भी बुद्वार के दिन राजा को बांद्रा टर्मिनस से बांद्रा जम्मू तवी स्वराज एक्सप्रेस से जम्मू के लिए लेकर गए। इस गणेश मूर्ति को भारत पाकिस्तान का राजा भी कहा जाता है। क्योंकि यह मूर्ति मुंबई से सीधे कश्मीर के पूँछ इलाके में जाती है जो भारत पाकिस्तान के बॉर्डर पर पड़ता है। यह ट्रस्ट पिछले 7 सालों से लगातार मुंबई के विद्या विहार से जम्मू कश्मीर के पूँछ इलाके में गणेश भगवान की मूर्ति को लेकर जाते हैं। इस गणेश मूर्ति को बनाने वाले मूर्तिकार का नाम उदय राने हैं।

ईशर दीदी , ट्रस्ट की वाईस प्रेसीडेंट ने कहा कि, मैं यह गणेश मूर्ति अपने सैनिक भाइयो के लिए ले जाती हूँ. वहां हम बड़े धूम से 10 दिन का पूरा त्यौहार मनाते है। मैं अपने सारे सैनिक को अपना भाई मानती हूँ और कोशिश करती हूँ की उन्हें थोड़ी ख़ुशी दे सकूँ। यह सैनिक अपने घरवलो से दूर रहकर दिन रात हमारी रक्षा में तैनात रहते हैं। उन्हें थोड़ी ख़ुशी देकर मैं अपना आभार प्रकट करती हूँ। 

मुझे ख़ुशी है की हमारे सैनिक भाई अपना कुछ वक़्त निकाल कर गणेश भगवान का दर्शन करने और आशीर्वाद लेने आते है। हम सब मिलकर इस त्यौहार को पुरे 10 दिन तक एकदम मराठा अंदाज़ से मानते है। 


Close Bitnami banner
Bitnami