लासलगांव में प्याज व्यापारियों के ठिकानों पर इनकम टैक्स की रेड

देश भर में बढ़ते प्याज के दाम को देखते हुए आईटी ने बड़े प्याज व्यापारियों के ठिकाने पर छापे मारी की कार्यवाही की है। इनकम टैक्स ने छापे मारी की कार्यवाही लासलगांव और उसके आस पास  के नौ प्याज व्यापारियों के ठिकाने पर छापे मारी की कार्यवाही की है। इनकम टैक्स के कार्यवाही के बाद प्याज व्यापरियों के अंदर हड़कंप मचा हुआ है।  वही इस कार्यवाही के बाद प्याज के दामों में भी काफी गिरावट देखने को मिली है।  इनकम टैक्स द्वारा की गई इस कार्यवाही के बाद आज प्याज की नीलामी भी नहीं हो सकी है। कार्यवाही की वजह से प्याज व्यापारियों में नाराजगी भी देखने को मिल रही है। आज इसके विरोध में नाशिक के कई मंडियों को बंद रखा गया है।

इनकम टैक्स ने छापेमारी की ये कार्यवाही महाराष्ट्र के लासलगांव, पिंपलगांव बसवंत, येवला, सटाना, उमराने, कलवन और चांदवड़ गांव के 9 बड़े व्यापारियों के ठिकाने पर की है। आईटी के रेड के बाद प्याज के दामों में 35 प्रतिशत गिरावट दर्ज की गई है। जो प्याज बुधवार को 1400 रूपए क्विंटल में बीक रहा था।  वही प्याज आज 900 रूपए क्विंटल में बीक रहे है। तो वही लासालगांव प्याज मंडी के सभापति का कहना है की कार्यवाही के विरोध में प्याज के मंडी को बंद कर दिया था,जिसकी वजह से सुबह प्याज की नीलामी नहीं हो सकी। काफी मान मनव्वल के बाद प्याज की नीलामी वापस शुरू की गई।

वही इसके विरोध में नाशिक के कई मंडी को बंद रखा गया है। मंडी में सरकार का विरोध करने अलग अलग जगहों से पहुंचे व्यापारियों का कहना है कि आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए सरकार ने प्याज के दामों को नियंत्रण में लाने के लिए के लिए ये कार्यवाही की है।  व्यापारियों का कहना है कि सरकार इस तरह की कार्यवाही आगे भी कर सकती है।

बात दे की पिछले डेढ़ महीनों में प्याज के दामों में पांच गुना की बढ़ोतरी देखने को मिली थी। जो प्याज जुलाई महीने 400 से 500 रूपए क्विंटल में बिक रही थी वही प्याज अगस्त महीने 2500 रूपए क्विंटल में बिक रहा है। यानी जो प्याज लोग 10 रूपए किलो में खरीद रहे थे वही प्याज 50 रूपए किलो में खरीद रहे थे।

पड़ोसी देश पाकिस्तान में 100 रूपए किलो बिक रहा है प्याज 

एक तरफ जहां भारत में प्याज के दामों को नियंत्रण में लाने की कोशिश की जा रही है तो वही पड़ोसी देश पाकिस्तान में प्याज समाप्ति के कगार पर पहुँच गया है। पकिस्तान ने भारत से 50 हज़ार मीट्रिक टन प्याज की मांग की है.पाकिस्तान के कराची में इस समय 100  रूपए किलो के हिसाब से बिक रहा है। भारत में प्याज के व्यापारियों का कहना है अगर सरकार प्याज का निर्यात पकिस्तान में करेगी तो इससे किसानों की परेशानी कुछ हद तक काम हो सकती है।


Close Bitnami banner
Bitnami