महाराष्ट्र का बेटा बना आयरलैंड का प्रधानमंत्री

महाराष्ट्र के सिंधुदुर्ग के लोग आज बेहद खुश हैं, जिसे भी देखो बड़े फक्र से कह रहा है की उनके ज़िले का बेटा उनके महाराष्ट्र का बेटा आयरलैंड का प्रधानमंत्री बना है। ये पूरे देश के लिए फक्र की बात है, 38 साल के डॉक्टर लियो वरदकर चुनाव में जीतने के बाद दुनिया में सबसे कम उम्र वाले पीएम बन गए हैं। इससे पहले वो सत्तारूढ़ पार्टी में हेल्थ मिनिस्टर रह चुके हैं। वे इस महीने के अंत में प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे।

आयरलैंड सत्तारूढ़ पार्टी ‘फाइन गाएल’ ने उन्हें अपना नेता चुन लिया है। डॉक्टर लियो वरदकर तीन इलेक्टोरल कॉलेज में 60 परसेंट वोट मिले हैं जबकि उनके प्रतिद्वंद्वी साइमन कोविनी को 40 फीसदी वोट से संतोष करना पड़ा।

आयरलैंड में 2007 को हुए स्थानीय चुनाव में लियो वरदकर सबसे पहले जीतकर आये थे, उसके बाद उन्हें पार्टी की तरफ से उप महापौर बनाया गया , उपमहापौर बनने के बाद लियो को पार्टी ने जल्द ही उन्हें मंत्री मंडल में शामिल कर लिया गया।आयरलैंड में हुए प्रधानमंत्री के चुनाव में लियो वरदकर सबसे मजबूत दावेदार बनकर उभरे थे।

लियो वरदकर सिंधुदुर्ग जिले के वरद गांवके रहने वाले है उनका गांव में घर और खेती है जो उनका चचेरा भाई वसंत वरदकर संभालता है। उनकी मानें तो,  लियो माता पिता साल में एक दो बार अपने गांव घूमने आते है। लियो के भाई वसंत ने बताया कि प्रधानमंत्री बनने के बाद लियो जल्द ही इंडिया अपने गांव भगवान के दर्शन के लिए आएंगे।

इससे पहले वरदकर तब चर्चा में आये थे जब 2015 में उन्होंने सार्वजनिक रूप से स्वीकार किया था कि वह ‘गे’ हैं और वो समलैंगिक विवाह का समर्थन करते हैं।


Close Bitnami banner
Bitnami