Maharashtra Rain Fury : रायगढ़ जिले में भूस्खलन के कारण 30 लोगों की मौत, राहत और बचाव कार्य जारी

Image Credit : The Indian Express

महाराष्ट्र (Maharashtra) के तटीय रायगढ़ जिले (Raigad District) में एक गांव के नजदीक भूस्खलन होने के कारण 30 लोगों की मौत हो गई है. जबकि आशंका जताई जा रही है कि महाड तहसील (Mahad) के तलाई गांव में हुए इस हादसे में मृतकों की संख्या बढ़ सकती है.

एक पुलिस अधिकारी ने कहा, “भूस्खलन वाली जगह से अब तक 30 शव बरामद किए गए हैं. स्थानीय लोगों का कहना है कि मलबे के नीचे और लोगों के फंसे होने की आशंका है.” अधिकारियों के मुताबिक गांव में करीब 30 घर हादसे के कारण पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गए हैं.

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Chief Minister Uddhav Thackeray )स्थिति की समीक्षा कर रहे हैं. राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (National Disaster Response Team-NDRF) की एक टीम मुंबई (Mumbai) से करीब 160 किलोमीटर दूर महाड (Mahad) पहुंच चुकी है और राहत एवं बचाव कार्यों में जुट गयी है. एक अन्य टीम के भी जल्द पहुंचने की संभावना है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने भी रायगढ़ हादसे पर दुख जताया है. उन्होंने ट्वीट किया “महाराष्ट्र में बाढ़ के हालात पर पूरी नजर बनी हुई है. पीड़ित परिवारों के प्रति मैं अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं. केंद्र सरकार की ओर से पूरी मदद की जा रही है”

गृहमंत्री अमित शाह ने भी रायगढ़ हादसे पर दुःख जताते हुए हरसंभव मदद का भरोसा दिया है. उन्होंने ट्वीट किया, “महाराष्ट्र के रायगढ़ में भारी बारिश व भूस्खलन के कारण हुआ हादसा अत्यंत दुःखद है. इस संबंध में मैंने मुख्यमंत्री श्री उद्धव ठाकरे और DG @NDRFHQ से बात की है. NDRF की टामें राहत व बचाव कार्यों में जुटी हुई हैं. केंद्र सरकार लोगों की जान बचाने के लिए वहाँ हर सम्भव मदद पहुँचा रही है”

ग़ौरतलब है कि महाराष्ट्र के कई हिस्सों में पिछले कई दिनों से लगातार हो रही बारिश के कारण अब तक कई हादसे भी हो चुके हैं. मौसम विभाग ने भी कोंकण, मुंबई और इसके आसपास के जिलों में अगले तीन दिनों के लिए रेड अलर्ट जारी किया है.


Close Bitnami banner
Bitnami