आज लाया जाएगा शहीदों का पार्थिव शरीर, ना- पाक सेना के हमले में शहीद हो गए महाराष्ट्र के दो बेटे

नापाक पाकिस्तान अपने कायराना हरकतों से बाज़ नहीं आ रहा है। पाकिस्तानी सेना की बैट टीम ने एक बार फिर नियंत्रण रेखा से लगे कृष्णा घाटी सेक्टर में भारतीय सीमा में घुसकर घात लगाकर हमला किया। हालांकि इस हमले को भारतीय सेना ने पूरी तरह से विफल कर दिया। लेकिन इस हमले में सेना को अपने दो जवान भी खोने पड़े हैं, जबकि एक घुसपैठिया मार गिराया गया। शहीद हुए एक जवान नाईक संदीप जाधव महाराष्ट्र के औरंगाबाद तो दूसरे सिपाही श्रावण बालकू माने कोल्हापुर के निवासी थे।

Image result for Indian Army Patrolling on LOC poonch

महाराष्ट्र के औरंगाबाद 35 वर्षीय संदीप जाधव पिछले 15 सालों से सेना में जबकि 25 वर्षीय श्रावण बालकू माने 4 साल पहले ही सेना में शामिल हुए थे। दोनों जवान उस वक़्त शहीद हुए जब सीमा के पास वो गश्त लगा रहे थे। तभी पाकिस्तान सेना के  बैट बटालियन के लोग कायरों की तरह छुपकर भारतीय सीमा दाखिल हो गए थे। बैट टीम भारतीय सीमा में 600 मीटर अंदर तक घुसकर बैठ गई थी और जैसे दो बजे के आस पास भारतीय सेना के जवान दाल के साथ गश्त लगा रहे थे उनपर हमला बोल दिया। भारतीय सेना की ओर से भी दुश्मनों को करारा जवाब दिया गया और एक आतंकवादी घुसपैठिया मार गिराया  गया।

ये कोई पहला मामला नहीं है जब पाकिस्तानी बैट टीम ने छुपकर भारतीय सेना पर हमला किया हो। इसी तरह दो बार पहले भी पाकिस्तानी बैट टीम ने कृष्णा घाटी सेक्टर में घात लगाकर हमला किया था, जिसमें दो भारतीय जवान शहीद हो गए थे।


Close Bitnami banner
Bitnami