मुख्यमंत्री बोले `संघर्ष यात्रा` का जवाब `संवाद यात्रा`

बीजेपी की कार्यकारिणी के दूसरे दिन मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस के निशाने पर विपक्षी पार्टी कांग्रेस और एनसीपी रही। उन्होंने दोनों पर जमकर हमला बोलते हुए  कहा कि, आज किसानों की बदतर हालत के लिए जो जिम्मेदार हैं, वही लोग आज संर्घष यात्रा निकाल रहे हैं। किसान समझदार हैं और उन्हें पता है की उनके नाम पर ये पार्टियां सिर्फ राजनीति कर रही है। इनको किसानों के हित से कोई लेना देना नहीं है। पहले तो इनको ये जवाब देना चाहिए की जब इनकी सत्ता थी तो इन लोगों ने क्या किया। हमें भी जवाब देना आता है हम किसानों तक पहुंचने के लिए संवाद यात्रा निकालेंगे। 

Image result for Sangharsh Yatra

मुख्यमंत्री देंवेंद्र फड़णवीस ने बीजेपी की कार्यकारिणी सभा के समापन में विपक्षियों की इस पर कड़ी आलोचना की। विपक्ष पर ये आरोप भी लगाया की जिन लोगों ने किसानों को लूटा है वही संघर्ष यात्रा निकाल रहे हैं। सिर्फ संघर्ष नाम से दे देने से  कुछ नही होता है। इसके लिए में साफ़ नियत से संघर्ष करना पड़ता है। देंवेंद्र फड़णवीस ने अपने दिवंगत नेता गोपीनाथ मुंडे की संघर्ष यात्रा की याद दिलाकर कहा कि, उनकी यात्रा से बड़ा परिवर्तन हुआ था। किसानों को इन पर विश्वास नहीं रहा है तभी तो अब संर्घष यात्रा में किसान भी शामिल नहीं हो रहे, उन्हें पता है कि उनका नुकसान किन लोगों वजह से हुआ है।

फड़णवीस के मुताबिक, जल्द ही बीजेपी द्वारा संवाद यात्रा का आयोजन किया जाएगा। जिसके ज़रिये गांव गांव घूमकर राज्य के 25 लाख से किसानों से इस यात्रा के माध्यम से संवाद साधा जाएगा। उन्हें सरकारी योजनाओं के बारे में बताया जाएगा, बीजेपी के विधायक सांसद और सभी पदाधिकारी किसानों के खेतों तक जाकर इसकी जानकारी देंगे।

इन दिनों महाराष्ट्र में दोनों प्रमुख विपक्षी पार्टियां कांग्रेस और एनसीपी किसानों की कर्ज माफी और अन्य मांगो लेकर सरकार के विरोध में संघर्ष यात्रा कर रही है। 


Close Bitnami banner
Bitnami