नहीं चला वीडियो तो युवक ने तोड़ डाला तेजस का स्क्रीन

मुंबई से गोवा के लिए चलने वाली लक्ज़री ट्रेन तेजस एक्सप्रेस के पहले ही सफर में किमती हैडफ़ोन चोरी होने का मामला सामने आया था. अब ऐसा ही एक और मामला सामने आया है जो सीसीटीवी कैमरे में क़ैद हो गयी है। फुटेज में दिख रहा है की कैसे एक युवक ने तेजस एक्सप्रेस में लगे स्क्रीन को तोड़ डाला।युवक का कहना है की उसने ये स्क्रीन इस लिए तोड़े क्यूंकि स्क्रीन में ठीक तरह से वीडियो नहीं चल रहा था। तेजस ट्रेन में लगे मॉनिटर तोड़ने का सीसीटीवी फुटेज अब जाकर सामने आया है। जिसमे युवक मॉनिटर को श्रतिग्रस्त करते दिखाई दे रहा है।

तेजस एक्सप्रेस में स्क्रीन तोड़ने का जो वीडियो सामने आया है वो 10 जून का है। वीडियो मे दिखाई दे रहा है की जब ट्रेन ठाणे से निकलती है। तब तक ट्रेन का डिब्बा पूरी तरह खली हो गया था। सिर्फ पांच लड़कों का ग्रुप उसमें मौजूद था। जब उनमे से एक लड़के ने स्क्रीन को चालु करना चाहा तो वो चालु नहीं हुआ।तभी एक यवक ने उस स्क्रीन को पंच मारकर तोड़ डाला।

इस मामले में आरपीएफ पुलिस ने उस युवक सीसीटीवी फुटेज की मदद से गिरफ्तार कर लिया है। जिसकी पहचान नंददीप कीर (27) तौर पर हुई है। आरपीएफ पुलिस ने आरोपी नंददीप को मंगलवार के दिन उसे कोर्ट में पेश किया जहां कोर्ट ने 25000 का जुर्मान भराने के बाद उसे छोड़ दिया।

सेंट्रल रेलवे आरपीएफ के अधिकारी ने बताया कि जब तेजस ट्रेन के पहले सफर में हैडफ़ोन के चोरी का मामला सामने आया था। उसके बाद ट्रेन के हर डिब्बे में सीसीटीवी कैमरा लगाया गया था। जो अब तेजस ट्रेन में इस तरह के हरकत करने वाले लोगों को पकड़ने में काफी मददगार साबित हो रहा है।

आरोपी नंददीप से 25000 रूपए का जुरमाना भरने को कहा गया जिसमे 22000  रूपए स्क्रीन कि भरपाई थी और 3000  रूपए सीआरपीसी कि धारा 357 के तहत भराया गया।


Close Bitnami banner
Bitnami