नितीश कुमार ने मुंबई में आकर उद्धव और राज को ललकारा

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आज मुंबई में मराठी लोगों के नाम पर राजनीती करने वालों पर जमकर निशाना साधा। किसी का नाम तो नहीं लिया लेकिन मुख्यमंत्री के निशाने पर राज और उद्धव ठाकरे ही रहे। आज वे मुंबई में रैली को संबोधित कर रहे थे। यहां उन्होंने बिहारवासियों को जमकर तारीफ भी की। उन्होंने कहा की लोगो का काम बिहारियो के बिना नही चल सकता है। जब मुंबई में  बिहार दिवस यहा मनाया गया था उसका शुरू में विरोध भी किया था कुछ लोगो ने। बाद में विरोध करने वालों का दिमाग ठंडा हो गया। बिहारी काम करते है प्रचार नही करते है और वो कभी किसी के ऊपर बोझ नही होता है। बिहार के रहने वाले लोग जहाँ जाते हैं वो सैकड़ो लोगो को काम देते हैं किसी का कुछ लेते नहीं हैं।

वो यहीं नहीं रुके उन्होंने प्रधानमंत्रीओ पर भी जमकर निशाना साधा। आज पूरे देश मे कृषि संकट है। यही वजह है की कभी धनाड्य समझने वाला समाज आज आरक्षण मांग रहा है।। जाट, मराठा, पाटीदार सबको आरक्षण चाहिए। तीन साल बीत गया नरेंद्र मोदी मिनिमम सपोर्ट प्राइस पर किये गए अपने वादे भूल गए हैं।  अब नई बात कह रहे है कि 5 सालो में किसानों की आय दुगनी करेंगे। वो रोज़ नई बाते करते है। उन्हें देखना चाहिए की, हमारे बिहार में लोग हमारी कामो की वजह से आत्महत्या करने को मजबूर नही होता। लोग कहते है शराब बंदी से सरकार को नुकसान हो जाता है। लेकिन सरकार को जितना पैसा का नुकसान हुआ उतना पैसा हमारे बिहार के लोगो का बच गया। दूध,मिठाई,फर्नीचर और कई दूसरी चीज़ो की बिक्री बढ़ गयी।

नितीश ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को सलाह दे दी महाराष्ट्र में तीन जिलों में लागू है शराब बंदी। पूरे महाराष्ट्र में लागू कीजिये। बिहार में शराब बंदी के बाद भी टूरिस्ट की संख्या बढ़ी हौ। टूरिस्ट शराब पीने नही आता है।सुप्रीम कोर्ट ने शराब को लेकर फैसला किया है। लेकिन अब राज्य सरकार जोड़ तोड़ कर रही है कि स्टेट हाईवे को डेनोटिफी करने का। ये ठीक नही है एक्सीडेंट को रोकना है तो सकारात्मक बात कीजिये।लेकिन यहाँ तो नकारात्मक काम को बढ़ावा दिया जा रहे है।

नितीश के मुताबिक बीजेपी और नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ विपक्ष को एकजुट होना चाहिए। सबको साथ मे आना चाहिए। गांधी जी के विचारों को अपनाइए। जिन लोगो की आज़ादी में कोई भूमिका नही वही राष्ट्रभक्ति का पाठ पढ़ाते है।। जो तिरंगे को मानते नही थे वो आज राष्ट्रभक्ति की बात करते है। चलिए तिरंगे को मान तो लिया इन लोगो ने।


Close Bitnami banner
Bitnami