पहले ख़ुदकुशी की थी प्लैनिंग, फिर माँ का क़त्ल कर दिया

मुंबई के चर्चित दीपाली गनोरे हत्याकांड का खुलासा हो ही गया। शीना बोरा हत्याकांड की जांच टीम का हिस्सा रहे इंस्पेक्टर ज्ञानेश्वर गनोरे की पत्नी की हत्या  किसी और ने नहीं बल्कि उनके बेटे सिद्धांत ने ही की थी। सिद्धांत ने अपना जुर्म क़ुबूल कर लिया है। उसने बताया की वो अपनी मां की रोज़ रोज़ की रोक टोक से परेशान हो गया था। इसीलिए उनसे ये खौफनाक कदम उठाया था।

पुलिस की गिरफ्त में आया सिद्धांत ने अपना जुर्म क़ुबूल करते हुए बताया की, उसकी प्लैनिंग माँ की हत्या की नहीं थी। बल्कि वो खुद ख़ुदकुशी करना चाहता था, लेकिन हिम्मत नहीं जुटा पाया। उसने ख़ुदकुशी के कई तरीके भी सोंचे, इंटरनेट पर रिसर्च भी किया फिर भी वो हिम्मत नहीं कर पाया। 

shidant at police station

उस दिन भी हमेशा की तरह माँ दीपाली उससे सवाल जवाब कर रही थी। उसने माँ के सवालों को टालने की बहुत कोशिश की। मगर माँ ने उसकी शिकायत पिता से करने की बात कहकर उस पर ज़ोर ज़ोर से चिलाने लगी। जिससे वो गुस्से में आ गया और अचानक से उसने माँ पर पीछे से हमला कर दिया। हमले में माँ नीचे ज़मीन पर जा गिरी जिसके बाद उसने किचेन नाइफ से उस पर कई हमले किये। उस वक़्त उसने टीवी की आवाज़ तेज़ कर दी थी। 

इसके बाद उसने कपडे बदले और घर के अलमीरा की चाभी की निकाली। अलमीरा से उसने दो लाख रूपये नगद लिया और घर से निकल गया। 

ये भी पढ़ें​

माँ की हत्या के आरोप में इंस्पेक्टर गनोरे का बेटा जोधपुर के होटल से गिरफ्तार

सिद्धांत ने बताया की माँ उससे बीएससी फ़र्स्ट इयर का प्रोग्रेस रिपोर्ट मांग रही थी। मगर उसने तैयारी न होने के कारण परीक्षा ही नहीं दिया था। इस बारे में उसने किसी को नहीं बताया। वो जानता था की अगर उनसे ये बात मान को बताई तो वो घर में फिर हंगामा करेगी। वो कॉलेज से जब भी घर आता उससे दीपाली उसका रिपोर्ट मांगती। माँ हर छोटी छोटी बात को बड़ा बना देती थी, जिसकी वजह से उसके माता पिता आए दिन झगड़ा होते थे।

पिता ज्ञानेश्वर गनोरे शीना बोरा हत्याकांड की जांच टीम का हिस्सा रह चुके हैं। फिलहाल वह मुंबई के खार पुलिस थाने में पोस्टेड हैं। उनकी पत्नी की हत्या के बाद से ही बेटा सिद्धांत भी लापता हो गया था।


Close Bitnami banner
Bitnami