खेतों में कीटनाशक छिड़कते वक़्त एक और किसान की मौत

महाराष्ट्र में खेतों में कीटनाशक छिड़कते वक़्त किसानों को हो रहे विषबाधा और मौत के मामले कम होने का नाम नहीं ले रहा है। अकोला में कीटनाशक छिड़कते वक़्त एक और किसान विषबाधा की चपेट में आ गया है। विषबाधा की चपेट में आने से किसान की मौत हो गई है। मृतक किसान की पहचान गोविंद मनिरामजी अस्वार 45 के तौर पर हुई है।

अकोला जिले के अकोट तालुका धबडगाव वेटाळ गांव के रहने वाले किसान गोविंद मनिरामजी अस्वार 6 दिसंबर के दिन अपने खेत में कीटनाशक का छिड़काव करने के लिए गए हुए थे। खेतों में कीटनाशक का छिड़काव करने के बाद उन्हें तकलीफ होने लगी। जिसके बाद गोविन्द के परिजनों ने उन्हें ग्रामीण दवाखाने में इलाज के लिए भर्ती कराया लेकिन वहां पर उनकी हालात बिगड़ते गई। जिसकी वजह से डॉक्टरों ने उन्हें अकोला मेडिकल हॉस्पिटल में रेफेर कर दिया। जहाँ पर उनकी मौत हो गई है।

खेतों में कीटनाशक छीडकते वक़्त महाराष्ट्र में 40 से अधिक किसानों की मौत हो चुकी है। जिसकी संख्या महाराष्ट्र के यवतमाल जिले में अधिक है। लेकिन यहाँ पर सवाल ये है की आखिर इस तरह जहरीली दवा की चपेट में आकर कब तक किसान अपनी जान गवांते रहेंगे।


Close Bitnami banner
Bitnami