पुलिस ढुंढ नहीं पाई तो महीला ने ख़ुद पकड़ा चोर को

आम तौर पर ये बहुत कम ही सुनें को मिलता है की किसी महीला नें हिम्मत दिखाई हो और ख़ुद अपनी लड़ाई हो। लेकिन डोम्बिवली कि पहनें वाली सबा वें जो किया है वो किसी प्रेरणा से कम नहीं है। चढ़ती बस में चोर नें सबा का पर्स उड़ा लिया था लेकिन वे हाँथ पर हाँथ धरे बैठी नहीं रही। उन्होंने पुलिस के भरोसे बैठने की बजाय खुद ही तफ्तीश में जुट गई और सबा ने ना सिर्फ चोर का पता लगाया बल्कि उसे पकड़कर पुलिस के हवाले भी कर दिया। लेकिन जो बात सबसे हैरान करने वाला था वो ये कि पर्स चोर महिला की ही सोसायटी में रहता था।   

ये पूरी वारदात 3 मई कि हो जब डोम्बिवली की पलावा सिटी में रहने वाली सबा सिद्दीकी जब दफ़्तर जा रही थीं, तभी बस में चढ़ते समय किसी ने उनके बैग से पर्स निकाल लिया। पर्स में करीब 3 हजार रुपये और कुछ ज़रूरी दस्तावेज थे। पहले तो पता नहीं काल पाया लेकिन जब कडक्टर को पैसे देने के लिए बैग खोला तो पर्स नहीं था। जब उन्होंने बस में कुछ लोगों से पूछा तो पता चला कि बस में चढ़ते वक्त एक शख्स उनके पीछे था पर फिर अचानक से उतर गया।

बस से उतारकर वो सीधे थाने गयीं लेकिन पुलिस उन्हें एक थाने से दूसरे भेजती रही। वो पहले पास के मानपाड़ा पुलिस थाने गई तो वहां से उन्हें दूसरे पुलिस थाने शील डायघर में जाने को कहा गया। सबा समझ गई थी कि वो इस तरह पुलिस के सहारे हाथ पर हाथ धर कर बैठी रहेंगी तो उनका पर्स नहीं मिलने वाला है। फिर क्या था उन्होंने खुद ही चोर को तलाशने का फैसला किया और वो खुद ही तहकीकात में जुट गई । सबसे पहले सबा सिद्दीकी ने शीलडायघर पुलिस थाने में शिकायत लिखाने के बाद उन्होंने सबसे पहले खुद उस बस की सीसीटीवी फुटेज निकलवाई।

इसके लिए खुद वो अपने पति के साथ कल्याण डोम्बिवली म्यूनिसपल कंट्रोल रूम गईं। काफी जद्दोजेड के बाद वहां से उन्हें  सीसीटीवी वीडियो मिला। सीसीटीवी के वीडियो में एक शख्स बस  में चढ़ते हुए उनका पर्स निकालते हुए साफ़ साफ़ दिख रहा था। सीसीटीवी के वीडियो से सबा ने उस आरोपी शख्स की तस्वीर के प्रिंट आउट निकालकर पूरे इलाके में घुमघुम कर बांटा बांटे और रोज़ सुबह उस बस स्टॉप पर जाकर नज़र रखने लगीं जहां से उनका पर्स चोरी हुआ था। 

कहते हैं न ढूंढने  से भवान मिल जाते हैं फिर चोर क्या चीज़ है । सबा के मुताबिक़ रोज़ कि तरह जब वो उस चोर कि तलाश में बस स्टॉप पहुंची चोर उन्हें दिखाई दे गया, लेकिन इससे पहले कि वो उस तक पूँछ पातीं वो उन्हें देखते ही स्कूटर से भाग निकला।

वो तब भौंचक्की रह गयीं जब वही लड़का एक दिन अचनाक उनके ही सोसायटी के डिपार्टमेंटल स्टोर में दिख गया। फिर क्या था सबा ने उसे वहीँ दबोच लिया और फ़ौरन पुलिस को इत्तेला कर दी।

पुलिस अधिकारी संजय पाटिल के मुताबिक़, लड़का शातिर चोर है जो जान बूझकर महंगी और पॉश सोसाइटी में रहता है ताकि किसी को उस पर शक न हो। आरोपी चोर रूपेश लोखंडे सोलापुर का रहने वाला है और पुलिस ने उसके घर से 4 से 5 पर्स और बरामद किया जो उसने उसी इलाके से उड़ाए थे।


Close Bitnami banner
Bitnami