पुणे के पास टनल में क्रेन पलटा 8 मजदूरों की मौके पर ही मौत,1 को ज़िंदा निकाला गया

महाराष्ट्र के पुणे के पास भिगवण तहसील के अकोले गांव में सोमवार देर शाम एक टनल के अंदर क्रेन पलटने से 8 मज़दूरों की मौत हो गई, जबकि एक को ज़िंदा निकाला गया। ये सभी मज़दूर नीरा भीमा रिवर लिंकिंग प्रोजेक्ट के तहत बन रहे टनल में काम कर रहे थे, तभी ये हादसा हुआ। हादसे में कई मज़दूर गंभीर रूप से जख्मी भी जो गए है। क्रेन तब पलट गयी जब उससे जुड़े रोप-वे के सहारे मज़दूर काम करके नीचे उतर रहे थे। सरकार ने मृतकों के लिए मुआवज़े के साथ जांच के आदेश भी दे दिए हैं ।

जानकारी के मुताबिक़ , पुणे से 150 किमी दूर अकोले गांव के पास पिछले 6 महीने से टनल बनाने का काम चल रहा था । शाम करीब 6 बजे जब सभी मज़दूर अपना काम खत्म कर रोप वे से नीचे उतर रहे थे। तभी अचानक एकतरफा वज़न की वजह से क्रेन पलट गई । जैसे ही क्रेन पलटी सभी मज़दूर नीचे गिर गए और जैसे ही वो नीचे गिरे रोप-वे के वायर टूटने से ऊपर में बंधी ट्रॉली नीचे उनके ऊपर गिर पड़ी। तब तक कंक्रीट मिक्सर भी उनके ऊपर गिर पड़ा। मौके पर ही सभी मजदूरों की मौत हो गई। हालांकि एक मज़दूर को मलबे के अंदर से ज़िंदा निकला गया।

हादसे में मरने वाले ज़्यादा तर मज़दूर उड़ीसा के रहने वाले हैं और वो पिछले कई महीनों से उसी जगह काम कर रहे थे। बताया जा रहा है इस टनल को बनाने में 300 मजदूर काम कर रहे थे। हादसे के बाद मौके पर पहुंचे जल संसाधन मंत्री गिरीश महाजन ने मृतकों के परिजनों को 2 लाख का मुआवजा देने का ऐलान किया है।


Close Bitnami banner
Bitnami