पुरानी रंजिश निकलने के लिए रची थी झूटी गैंग रेप कि कहानी

पुणे में तीन दिन पहले हुए फॉर्चूनर गाडी में महिला से बलात्कार के मामले में पुलिस ने नया खुलाशा किया है। पुलिस की माने, तो ये बलात्कार का मामला एक साजिश का हिस्सा था । जो अपने पुरानी रंजिश का बदला लेने के लिए गढ़ी गई थी।

 ये भी पढ़े :​

चलती फॉर्चूनर गाडी में महिला से सामूहिक बलात्कार, दर्शन के लिए गयी थी महिला

पुलिस ने खुलासा किया है कि, दादा गव्हाने और संदीप जगदाले नामक शख्स ने ये पूरी साज़िश अपने पुराने दुश्मन प्रकाश चव्हाण और अजय नवले से बदला लेने के लिए रची थी। दादा गव्हाने और संदीप जगदाले पर पहले से कई मामले चल रहे हैं और उनका पुराण आपराधिक इतिहास रहा है। दोनों का  का प्रकाश चव्हाण और अजय नवले का किसी बात को लेकर विवाद चल रहा था। दादा गव्हाने, संदीप जगदाले ने प्रकाश चव्हाण और अजय नवले को जेल भेजने की धमकी भी दी थी।

इसी दुश्मनी का बदला लेने के लिए प्रकाश और अजय को फ़साने के लिए दोनों ने एक महिला को पैसा देकर बलात्कार का झूठा मामला दर्ज करवाया था।
इतना ही नहीं महिला कि शिकायत पर किसी को कोई शक न हो इसके लिए भी दो फर्जी गवाह पैसे देकर खड़े किये गए थे। लेकिन जब मामला दर्ज हुआ तो पुलिस को महिला कि बदलते बयान पर शक हुआ। जब उससे सख्ती से पूछताछ कि गई तो उसने सारा भेद खोल दिया। 

पुणे के शिंदवाने घात में शुक्रवार की रात एक महिला ने चलती फॉर्चूनर गाडी में दो लोगों द्वारा बलात्कार करने का आरोप लगाया था। इस मामले में महिला ने दो बाइक सवार की मदद लेकर पुलिस में शिकायत भी की थी।


Close Bitnami banner
Bitnami