रेप के मामले से हुए `सुन रहा है न तू` फेम अंकित तिवारी

सुन रहा है न तू गाने से सुर्ख़ियों में आने वाले गायक और संगीतकार अंकित तिवारी को कल अदालत से बड़ी रहत मिली है। मुंबई की विशेष अदालत ने उन्हें व एक अन्य आरोपी को रेप के मामले से बरी कर दिया है। मई 2014 में अंकित तिवारी के खिलाफ एक उनकी एक दोस्त ने ही वेर्सोवा पुलिस थाने में उनपर बलात्कार का मामला दर्ज कराया था। जिसके अंकित की उनके घर से गिरफ़्तारी भी हुई थी और कई महीनो तक उन्हें जेल तक में रहना पड़ा था। अंकित के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 376,506 व 493 के तहत मुंबई पुलिस ने विशेष अदालत में आरोप पत्र दायर किया था।

2014 में दर्ज हुई शिकायत में पीड़ित का आरोप था की अंकित तिवारी ने उसे शादी का झांसा देकर उसके साथ अक्टूबर 2012 से दिसंबर 2013 के बीच कई बार बलातकार किया था। जब पीड़िता ने उसे शादी की बात की तो वो उसे डरा धमकाकर खामोश करते रहे। सिर्फ अंकित ही नहीं उनके भाई ने कई बार उसे धमकी दी और बदसलूखी भी की। 

Image result for Ankit Tiwari in court

                                                                                            File: Ankit Tiwari in Police Custody 

इसी शिकायत के आधार पुलिस ने अंकित को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ आरोपपत्र दायर किया था। अदालत में तिवारी व एक अन्य आरोपी के खिलाफ मुकदमे की सुनवाई शुरू हुई। लेकिन सुनवाई के दौरान पीड़िता अपने बयान से मुकर गई। इसे देखते हुए न्यायाधीश ने तिवारी को बरी कर दिया। इससे पहले अंकित तिवारी ने अदालत में आवेदन दायर कर दावा किया था कि उसने शिकायतकर्ता के साथ सहमति से संबंध बनाए थे। 


Close Bitnami banner
Bitnami