ये चमत्कार से कम नहीं, कार में सवार सभी के टुकड़े हो गए

जलगांव की ये खबर किसी चमत्कार से काम नहीं है। एन एच हाइवे नंबर 45 पर एक भीषण सड़क हादसा हुआ, इस हादसे में कर में सवार दो लोगों के टुकड़े हो गये और चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए है। लेकिन कुदरत का करिश्मा देखिये इस हादसे में सात माह की बच्ची को खरोंच तक नहीं आई। घायलों को इलाज के लिए पास के ही सरकारी हाॅस्पिटल में भर्ती कराया गया है।

जलगांव के फुलपगारे परिवार के लोग इंडिगो कार से एशिया हाईवे से जा रहे थे। तभी उनकी कार ने एक ट्रक को ओवरटेक करने की कोशिश की और इसी  चक्कर में कार ने सामने से आ रहे ट्रक को टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जोरदार थी कि, ड्राइवर भगत और उसके बगल में बैठे गणेश फुलपगारे की मौके पर ही मौत हो गयी। जबकि पीछेय की सीट पर बैठे चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। किसी तरह गांव वालों ने कार में फेज लोगों को बहार निकाला।

लेकिन गांव के लोग तब अचंभित हो गए जब उन्होंने कार में सात माह की एक बच्ची को देखा जो सीटों के बीच फँसी थी। जब उसे बहार निकाला गया तो उसे चोट तो दूर शरीर पर एक खरोच तक नहीं आयी थी। गांव वाले तो गांव वाले खुद डॉक्टर भी इसे किसी करिश्मा से काम नहीं मान रहे हैं।

देखिए हादसे की तस्वीर : 

accident

car

ट्रक से टक्कर के बाद कार के उड़े परखच्चे, सात माह की बच्ची को खरोंच तक नहीं आई

ट्रक से टक्कर के बाद कार के उड़े परखच्चे, सात माह की बच्ची को खरोंच तक नहीं आई

ट्रक से टक्कर के बाद कार के उड़े परखच्चे, सात माह की बच्ची को खरोंच तक नहीं आई


Close Bitnami banner
Bitnami