Maharashtra/Goa

अमरनाथ यात्रा में मारी गयीं महिलाओं के परिवार ने कहा आतंक का कोई धर्म नहीं होता

0

एक बार फिर सीमा पार से आये आतंकियों ने निहत्ते लोगों पर गोलियां बरसा कर कई लोगों की जान ले ली है। इस हमले में कुल सात लोगों की मौत हो गयी है जबकि कई ज़ख़्मी भी हुए हैं इसी हमले में मुंबई से सटे पालघर की रहने वाली दो महिलाओं की भी जान चली गयी है। उनका परिवार दुखी है और अपनों के लिए इन्साफ की मांग कर रहे है।  साथी ही वो ये कहने से भी नहीं चूक रहे हैं जिन लोगों ने बाबा बर्फानी के भक्तों पर हमला किया है वो किसी धर्म के नहीं है, बल्कि वो गुनेहगार हैं।  जिन्होंने ने निहत्तों को अपना निशाना बनाया है आतंक और आतंकवादियों का कोई धर्म नहीं होता। अगर उस धर्म के कुछ नापाक लोगों ने गोलियां बरसाई तो कई लोगों की जान बचाने वाला भी उसी धर्म का है।  .

जिन दो महिलाओं की मौत हुई है दोनों भी पालघर जिले के डहाणू के रहने वाली है।  उनके साथ 2 पुरुष और 13 महिलाओं की टोली एक सफ्ताह पहले अमरनाथ यात्रा के लिए वलसाड से होते हुए रवाना हुयी थी। हालांकि इस टोली में 6 लोग घायल और दो महिलाओ की मौत हुयी है। जिनका नाम निर्माला ठाकुर और उषा सोनकर है।

इस घटना से तिलमिलाए दोनों परिवारों ने अपनी बात रखी है जहा निर्मला ठाकुर के पति का कहना है की  “उनकी पत्नी अमरनाथ यात्रा पर गई हुई थीं और आतंकियों ने हमला कर दिया। बार-बार हमले होते रहते हैं, सरकार कुछ करती नहीं है। इस पर सख्त से सख्त कार्रवाई हो। वही उषा सोनकर के भतीजे रमेश का कहना है कि “इस हमले में मेरे एक रिश्तेदार की मौत हुई है, आप लोग हेल्प करें हमें जानकारी नहीं मिल रही है। इस खौफनाक मौत के कारन
दोनों परिवारों में मातम छाया हुआ है।  .

जहा लोगो ने धर्म कि बात करते हुए आतंकियों को कोसा है वही ऐसे मसीहे को सराहा है।जिसने अनेक अनेक शिवभक्तों कि जान बचायी है। जिस ओम ट्रैवेल्स बस के ड्राइवर के कारण कई भक्तजनों की जान बची है उसका नाम सलीम सेख है। गुजरात के वलसाड का रहने वाला है। अमरनाथ यात्रा के दौरान रास्ते में अचानक से दहशतगर्दियों द्वारा गोली बरी शुरू हो गई ,ऐसी कठिन परिस्थिति में सलीम ने बिना डगमगाए उस परेशानी का हल निकाला,और अपनी सूझ बुझ से आतंकवादियों द्वारा हो रही अंधाधुन गोली बारी में भी बस कि गति बढ़ायी और बस को आर्मी कैंप तक पहुंचाया जिसे भक्तजनो कि जान बची।हालांकि इस हमले का जिम्मेदार पाक का मास्टरमाइंड इस्माईल है।

Rahul Pandey

बेलगाम से पकड़ा गया करोड़ों का पुराना नोट

Previous article

अब मुंबईकरों को पासपोर्ट के लिए नहीं करना होगा लंबा इंतज़ार

Next article

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published.

Close Bitnami banner
Bitnami