Maharashtra/Goa

⁠⁠⁠एक के बाद एक मासूमों को निगल रहा है ब्लू वेल खेल

0

ब्लू वेल खेल एक के बाद एक मासूम की जान ले रहा है। महाराष्ट्र का ये तीसरा मामला है जहाँ मासूमों ने अपनी खुद की जान दी है। 15 वर्षीय कल्पेश पाटिल ने पंखे से लटक कर खुदखुशी कर ली है। यह घटना महाराष्ट्र के जलगांव इलाके का है। घटना के बाद से परिवार वाले लापता है। पुलिस को सुचना मिलते ही इसकी छानबीन में जुट गई है।

ये भी पढ़ें :

गेम बन गया है कातिल! मुंबई में 14 साल के बच्चे ने की ख़ुदकुशी

15 वर्षीया कल्पेश पाटिल जो जलगांव के सावंतखेड़ा इलाके में रहता था, 5 दिन पहले उसने ब्लू वेल खेल के चक्कर में पंखे से लटक कर ख़ुदकुशी कर ली है। कल्पेश नौवीं कक्षा का छात्रा था। इस घटना से घबराए उसके परिवार वालो ने पुलिस को बिना सूचित किए उसका अंतिम संस्कार कर दिया। उसके बाद से परिवार वाले लापता हो गए है।

नज़ीर शेख, वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के अनुसार उनको इस घटना के बारे में किसी ने सूचित नहीं किया था। परिवार वालो ने घटना की खबर को दबाना चाहा। लड़के का अंतिम संस्कार कर परिवार वाले लापता हो गए हैं। मगर धीरे धीरे ये बात सारे गांव में फ़ैल गई थी, तब जाकर हमें इस मामले की जानकारी मिली थी। जानकारी मिलते ही हम इसकी तफ्तीश में जुट गए है।

कल्पेश के भाई ने ख़ुदकुशी की वजह जानने के लिए जब उसने उसकी बैग की तलाशी ली तब उसके भाई को, लड़के के मोबाइल में ब्लूवेल गेम नजर आया। जिसके बाद पता चला की लड़का ब्लू वेल गेम  के आखरी पड़ाव को पूरा करने के चक्कर में आत्महत्या जैसा संगीन कदम उठाया है। पुलिस ने आत्महत्या का केस दर्ज कर तफ्तीश में जुट गई है और साथ ही परिवार वालो को भी ढूंढ रही है।

आखिर कब तक यह मौत का खेल चलता रहेगा। एक के बाद एक मासूम इसके शिकार हो रहे हैं मगर प्रशासन इसके खिलाफ कोई कदम नहीं उठा रही है।

Irfan Siddiqui

पंचतत्व में विलीन हुआ महाराष्ट्र का लाल सुमेध गवई

Previous article

नौकरी के नाम पर ठगी करने वाले कॉल सेंटर का भंडाफोड़

Next article

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published.

Close Bitnami banner
Bitnami