Maharashtra/Goa

ISIS में शामिल होने कल्याण से इराक गया युवक मारा गया, पिता के पास आया फोन

0

कल्याण से भागकर आईएसआईएस की तरफ से जंग लड़ने इराक गए चार युवकों में से एक फहाद शेख मारा गया है। उसके पिता डॉक्टर तनवीर शेख के मुताबिक, इराक से एक अज्ञात शख्स ने फोन पर उन्हें यह इन्फॉर्मेशन दी। हालांकि, फोन करने वाले ने यह नहीं बताया कि उसकी मौत कैसे हुई। तनवीर ने कल्याण पुलिस और एटीएस टीम को इसकी जानकारी दे दी है। बता दें की फहाद के साथ इराक गए उसके एक दोस्त आरिब मजीद को डिपोर्ट कर मुंबई लाया गया था।

– फहाद शेख के पिता ने बताया, “फोन करने वाले ने मुझसे कहा तुम्हारा बेटा मारा गया है, जल्द ही उसका अंतिम संस्कार किया जाएगा। यह बात सुनकर मुझे धक्का लगा और मैंने फोन अपनी वाइफ को दे दिया।”

– तनवीर ने बताया कि उनके नंबर पर वाॅइस ओवर इंटरनेट प्रोटोकॉल (वीओआईपी) नंबर से कॉल आई थी।
– तनवीर ने यह इन्फॉर्मेशन महाराष्ट्र एटीएस और नेशनल इन्वेस्टीगेशन एजेंसी से शेयर की है।
– तनवीर ने ठाणे के बाजारपेठ पुलिस स्टेशन में जाकर अपना बयान भी दर्ज करवाया है। बता दें कि इसी पुलिस स्टेशन में फहाद के लापता होने का केस दर्ज है।
मुंबई में 26/11 जैसे हमले की दे चुका था धमकी
– फहाद शेख ने पनवेल के कलसेकर कॉलेज से मैकेनिकल इंजिनियरिंग में डिग्री ली थी। उसने 2014 में ट्वीट करके मुंबई में आतंकी हमले की धमकी दी थी।
– उसने ट्वीट में लिखा था, “गुजरातियों ने गुजरात दंगों के लिए आर्थिक मदद की थी, जिसमें बेगुनाह मुस्लिम मारे गए थे… 26/11 का आतंकी हमला उसका बदला था… अब वे फर्स्ट क्लास में हैं… बूम…”
– फहाद शेख ने देश छोड़ने के बाद 2015 में अपनी फैमली से कॉन्टैक्ट किया था। तब उसने पिता को कहा था,”मैं जिहाद के लिए किए जा रहे अपने काम से खुश हूं, मैं भारत लौटूंगा।”​
कहां हैं मुंबई से गए बाकी युवक?
– फहाद शेख और उसके तीन दोस्त- अमन टांडेल, शाहिन टंकी और अारिब मजीद मई 2014 में इराक गए थे, लेकिन वापस नहीं आए। बाद में पता चला था कि उन्होंने आईएसआईएस ज्वाइन कर लिया।
– नवंबर 2014 में फहाद के साथ इराक गए अमन के घर एक कॉल आया था। फोन करने वाले ने बताया था कि अमन की इराक में लड़ते हुए मौत हो गई। अमन आईएसआईएस के वीडियो में भी नजर आ चुका है।
– जनवरी 2015 में शाहिन टंकी के परिवारवालों के पास भी इराक से फोन आया था, जिसमें बताया कि उनके बेटे की मौत हो चुकी है। टंकी वही युवक है जिसने आरिब की मौत की जानकारी उसकी फैमिली को फोन पर दी थी।
– हालांकि, बाद में वह खबर गलत साबित हुई और आरिब आईएसआईएस के चुंगल से निकल कर इराक आर्मी के पास पहुंचा और वहां से इंडियन एजेंसीज उसे डिपोर्ट कर मुंबई लाई थीं। वो फिलहाल मुंबई की आर्थर रोड जेल में बंद है।

अब अवैध निर्माण को लेकर बीएमसी के निशाने पर महानायक अमिताभ बच्चन

Previous article

सोती रही पुलिस,सामने से लाखों रूपए का किमती मोबाइल ले उड़े चोर

Next article

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published.

Close Bitnami banner
Bitnami