Maharashtra/Goa

किसानों और पुलिस के बीच झड़प में तीस घायल, अतरिक्त बल बुलाया गया

0

कल्याण में किसान और पुलिस के बीच तीखी झड़प लगातार जारी है।अब तक इस उग्र आंदोलन में तीस से ज़्यादा लोग घायल हो चुके हैं जिन्हें गंभीर चोटें आयीं हैं। घायलों ठाणे अस्पताल भेजा गया है।वहीँ स्तिथि पर काबू पाने के लिए अतरिक्त बल बुलाया गया।मुंबई से सटे कल्याण में आज किसानों के आंदोलन ने उग्र रूप ले लिया। गुस्साए किसानों ने हाइवे पर जमकर पथराव किया कर कई गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया।कुछ ही घंटों में ठाणे-बदलापुर हाइवे जंग के मैदान में बदल गया।पुलिस ने किसानों को काबू करने की कोशिश की तो गुस्से भीड़ ने पुलिस टीम पर हमला कर दिया।

आंदोलनकारी किसान कल्याण नेवाली हवाई अड्डे के लिए अधिगृहीत की गई जमीन को वापस लेने के लिए अपना ये आंदोलन कर रहे हैं। और इसी क्रम में हज़ारों की संख्या में किसान सड़क पर उतर आये और देखते ही देखते हिंसक हो गए। उग्र किसानों का गुस्सा इतना ज़्यादा भड़क गया है की पुलिस को भी मौके से जान बचाकर भागना पड़ा है। किसानों ने अब तक हाइवे से गुजरने वाली दो दर्जन से अधिक गाड़ियों के शीशे फोड़ कर उसे आगे के हवाले कर दिया है। इस हमले में एक एएसपी रैंक का अधिकारी भी गंभीर रूप से घायल हो गया है। उग्र आंदोलन पर काबू पाने के लिए कई वरिये अधिकारी को भारी बल के साथ तनाव ग्रस्त इलाके में भेजा गया है।

किसान कई दिनों से सरकार द्वारा अधिग्रहित अपनी जमीन को वापस देने की मांग को लेकर विरोध कर रहे थे। सरकार ने उनकी ज़मीन कुछ साल पहले  एयरपोर्ट बनाने के लिए लिया था। लेकिन एयरपोर्ट न बनाकर वहां सेना का कैंप बनने लगा था। रिकॉर्ड के मुताबिक ब्रिटिश राज में ये ज़मीन उनके कब्ज़े में थी लेकिन जैसे ही देश आज़ाद हुआ किसानों ने उस पर अपना कब्ज़ा कर लिया। और सेना अपनी इस ज़मीन पर अपना ह

क़ चाहती है। लेकिन किसान इसी का विरोध कर रहे हैं।

Rahul Pandey

किसान ने जीते जी किया अपना अंतिम संस्कार, फिर चिता में कूद की ख़ुदकुशी

Previous article

अब लड़कियों के स्विमसूट पर दिखाई देंगे `भौंचक्के` अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप

Next article

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published.

Close Bitnami banner
Bitnami