Maharashtra/Goa

महाराष्ट्र: गणेश विसर्जन के दौरान ड्रोन से समुद्री किनारों पर नजर रखेगी पुलिस

0
गणपति विसर्जन के दौरान मुंबई पुलिस समुद्री किनारों पर नजर रखने के लिए ड्रोन कैमरों का इस्तेमाल करेगी। इसके अलावा वॉच टॉवर, पांच हजार सीसीटीवी कैमरे भी भीड़ पर नजर रखने के लिए इस्तेमाल किए जाएंगे। साथ ही सादी वर्दी में पुलिस कर्मी भी तैनात रहेंगे। गणेशोत्सव शांतिपूर्ण तरीके से बीत जाने से उत्साहित पुलिस अब विसर्जन भी बिना किसी विघ्नबाधा के पार करने के लिए पूरी तरह तैयार है।
सोमवार को सबसे बड़े विसर्जन स्थल गिरगांव चौपाटी का जायजा लेने पहुंचे मुंबई पुलिस आयुक्त दत्तात्रय पडसलगीकर ने कहा कि हालांकि किसी भी तरह के आतंकी हमले का अलर्ट नहीं हैं फिर भी पुलिस सुरक्षा में कोई कोताही नहीं बरत रही है। पुलिस के 45 हजार जवान सड़कों पर लोगों की सुरक्षा के लिए तैनात रहेंगे। अर्धसैनिक बल और होमगार्ड, एनएसएस, एनसीसी, स्काउट गाइड और गैरसरकारी संगठनों से जुड़े लोग भी कानून व्यवस्था बनाए रखने में पुलिस की मदद करेंगे। विसर्जन स्थलों पर प्रथमोपचार केंद्र और मदद केंद्र भी खोले जाएंगे। महानगर में कुल 119 विसर्जन स्थल हैं। विसर्जन के दौरान लोग गहरे पानी में न जाएं और किसी तरह का हादसा न हो इसलिए तैराक, नौसेना की नांव और दूसरे इंतजाम किए जाएंगे।
पर्यटन विभाग के पंडाल में पहुंचेंगे 400 विदेशी पर्यटक
गणेश विसर्जन के मौके पर विदेशी सैलानियों के लिए गिरगांव चौपाटी पर अलग से पंडाल लगाया जाएगा। गणेश उत्सव को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहुंचाने के लिए प्रदेश सरकार का पर्यटन विभाग पहली बार ऐसा प्रयोग कर रहा है।
पंडाल में अमेरिका, थाईलैंड, जापान और यूरोप समेत अन्य देशों के 400 विदेशी पर्यटक गणेश विसर्जन का नजारा देख सकेंगे। थाईलैंड के लोगों द्वारा गणेश मूर्ति का विसर्जन भी किया जाएगा। थाईलैंड से आए पर्यटकों के एक समूह ने नरीमन प्वाईंट स्थित होटल ट्राइडेंट में गणेश प्रतिमा स्थापित की है। गिरगांव चौपाटी पर शुक्रवार को होने वाले विसर्जन के लिए महाराष्ट्र पर्यटन विकास महामंडल (एमटीडीसी) और मुंबई महानगर पालिका ने मिलकर विदेशी नागरिकों के लिए पंडाल की व्यवस्था की है। सोमवार को प्रदेश सरकार के पर्यटन विभाग के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।
अधिकारी ने बताया कि मुंबई के अलग-अलग हिस्सों से विदेशी सैलानियों को गिरगांव चौपाटी तक पहुंचाने के लिए 20 बसों की व्यवस्था की गई है। पंडाल में पहुंचने के बाद विदेशी सैलानियों को बैठने की व्यवस्था होगी। यहां पर प्रदेश के पर्यटन मंत्री जयकुमार रावल और मुंबई मनपा के महापौर विश्वनाथ म्हाडेश्वर उनके स्वागत के लिए मौजूद रहेंगे।
विदेशी सैलानियों को पारंपरिक साफा पहना उनके माथे पर तिलक लगाया जाएगा। साथ ही सभी को गणेशजी की प्रतिमा भेंट की जाएगी। अधिकारी ने कहा कि गणेश उत्सव के दौरान विदेश से काफी सैलानी आते हैं। लेकिन इन्हें कोई विशेष सुविधा नहीं मिलती। जिससे विदेशी सैलानी जानकारी के अभाव में भटकते रहते हैं। इसलिए मुंबई में पहली बार गिरगांव चौपाटी पर इस तरह की व्यवस्था की गई है।

Shock..कपिल शर्मा…शराब की आदत..1 महीना ट्रीटमेंट..बड़ा खुलासा..

Previous article

गणपति पंडाल से किसान आत्महत्या का नाटक देख घर लौटा बालक और फिर…..

Next article

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published.

Close Bitnami banner
Bitnami