Maharashtra/Goa

वसई के बाद अब कल्याण में पुलिस वाले कि पिटाई ,इस बार रिक्शा चालक ने पीटा

0

लगता है महाराष्ट्र में लोगों के अंदर पुलिस वालों का डर पूरी तरह से खत्म हो गया है। शायद यही वजह है की कोई भी कभी पुलिसवाले पर हाँथ चलाने से नहीं डरत। दो दिन पहले ही वसई में एक पुलिस वाले के पिटाई का मामला सामने आया था। 48 घंटे भी नहीं बीते हैं और अब कल्याण से एक पुलिसवाले और ऑटो चालाक के बीच हुई हांथा पाई का वीडियो सामने आया है। घटना मुंबई से सटे कल्याण पक्षिम के कबोली सिंह चौक के पास का है। जहाँ नो पार्किंग को लेकर जब पुलिसवाले ने ऑटो चलाक का चालान काटा तो रिक्शा ड्राइवर भड़क गया और वो पुलिस वाले से ही मारपीट करने लगा। कल्याण के बाज़ार पेट पुलिस ने आरोपी रिक्शा ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया है।

जानकारी के मुताबिक कल्याण के कबोली सिंह चौक पर नो पार्किंग जोन में राहुल कारंडे नामक एक रिक्शा चालक ने अपनी रिक्शा पार्क कर शॉपिंग करने के लिए चला गया था। जिसकी वजह से सड़क पर लंबा जाम लग गया था। तभी ड्यूटी पर तैनात पुलिस कांस्टेबल ने पता लगाने की कोशिस की आखिर ये रिक्शा है किसका? जब काफी समय बीत गया और रिक्शा चालक नहीं आया तो ड्यूटी पर तैनात ट्रैफिक पुलिस कर्मचारी नाईक नामदेव हिमगिरे ने रिक्शे का पिछला सीट निकालकर अपने पास जमा कर लिया। जब रिक्शा चालक थोड़ी समय बाद वहाँ पहुंचा तो देखा की उसके रिक्शा का पिछला सीट नहीं था। तभी पुलिस कर्मचारी नाईक नामदेव हिमगिरे ने रिक्शा नो पार्किंग में खड़ी करने की वजह से 200 रूपए जुर्माना भरने के लिए कहा। गुस्से से तिलमिलाए रिक्शा चालक राहुल कारंडे और पुलिस वाले के बीच बहस हो गई। और देखते ही देखते पुलिसवाले पर हाथ चलाने लगा। उसके बाद भी बिना फाइन भरे जब पुलिस वाले ने रिक्शा का सीट देने से मना कर दिया तो फिर रिक्शा चालक राहुल ने 200 रूपए पुलिस वाले के मुँह पर फेख दिया और दंड की रसीद भी फाड़कर उसके मुंह पर मारा। इतना ही नहीं उसने पुलिस वाले से गालीगलौज की और फिर हांथापाई करने लगा।

मामला सामने आने के बाद आरोपी चालक को गिरफ्तार कर लिया गया है। कल्याण पुलिस ने उस पर ऑन ड्यूटी पुलिस वाले से बदसलूखी और मारपीट करने की धाराओं के तहत गिरफ्तार किया है।

 

Rahul Pandey

बैंक से लोन लेकर चैन स्नेचिंग करने वाला चैन स्नेचर गिरफ्तार

Previous article

युथ कांग्रेस के चुनाव के बाद आपस में ही कोंग्रेसियों ने खूब चलाए लात जुटे

Next article

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published.

Close Bitnami banner
Bitnami