Mann Ki Baat: ‘फिटनेस 2 मिनट की मैगी नहीं…’, मोदी के ‘मन की बात’ में बोले अक्षय कुमार अपना देसी घी छोड़कर स्टेरॉयड नाम का ज़हर खा रहे हैं युवा, ये शरीर को बर्बाद कर देगा 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रेडियो कार्यक्रम मन की बात का 108वां एपिसोड प्रसारित हो गया है जिसे आकाशवाणी सहित अन्य प्लेटफॉर्म पर प्रसारित किया गया है. इस दौरान पीएम ने कई लोगों ने उनके मन की बात जाननी चाही जिसमें आम आदमी से लेकर कई जानी- मानी हस्तियां भी शामिल थीं. उन्हीं हस्तियों में से एक नाम अक्षय कुमार का है जिन्होंने मन की बात में पीएम से बात करते हुए फिल्टर फिटनेस का जिक्र किया.

बॉलीवुड के खिलाड़ी और सबसे फिट इंसान अक्षय कुमार ने प्रधानमंत्री नरेन्द्रे मोदी जी से ने बात करते हुए बताया कि कैसे आज का युवा वर्ग फिल्टर फिटनेस पर ज्यादा फोकस्ड हैं और स्टेरॉयड दवाओं के जरिए वे खुद को फिट बनाते हैं लेकिन ठीक नहीं है. इससे उनकी बॉडी अंदर से खोकली होती जाएगी. फिटनेस पर प्रेरणादायक संदेश देते हुए उन्होंने शारीरिक फिटनेस के साथ-साथ समग्र कल्याण पर ध्यान देने का आह्वान किया.

खिलाड़ी कुमार ने बताया कि ‘मैं फिटनेस के लिए जितना जुनूनी हूं उससे कहीं ज्यादा मैं नेचुरल फिट रहने की कोशिश करता हूं, मुझे न ये फैंसी जिम से ज्यादा बाहर स्विमिंग करना पसंद है, मैं बैडमिंटन खेलना, सीढ़ियां चढ़ना, कसरत करना, हेल्दी खाना, जैसे मेरा मानना है कि शुद्धी घी अगर सही मात्रा में खाया जाए तो हमें फायदा होगा.’

अक्षय कुमार ने कहा, ‘मैं आजकल देखता हूं कि यंग लड़के- लड़कियां इस देसी घी नहीं खाते कि वो कहीं मोटे न हो जाएं. बहुत जरूरी है कि हम यह समझें कि क्या हमारी फिटनेस के लिए अच्छा है और क्या बुरा है. डॉक्टर की सलाह से आप अपना लाइफस्टाइल बदलो न कि किसी फिल्म स्टार की बॉडी देखकर.’ मन की बात में पीएम से अक्षय ने आगे कहा, ‘दोस्तों फिटनेस एक तरह की तपस्या है, ये इन्सटेंट कॉफी या फिर 2 मिनट का नूडल्स नहीं है.’  ‘नए साल में हमें अपने आप से वादा करना चाहिए कि कोई केमिकल और शॉर्टकट एक्सरसाइज न करें, फिटनेस के लिए आप योग करें, अच्छा खाना और वक्त पर सोना और थोड़ा मेडिटेशन करना सबसे जरूरी समझें. साथ ही जैसे आप दिखते हैं उस ही खुशी से स्वीकारें न कि फिल्टर वाली बॉडी को.’

अभिनेता ने अपनी बात को विराम देते हुए आखिरी में मन की बात के दौरान कहा, ‘आजकल इतने सारे लोग स्टेरॉयड दवाएं लेकर सिक्स और 8 पैक्स बनाते हैं. यार ऐसे शॉर्टकट से बॉडी ऊपर से फूल जाती है लेकिन अंदर से खोकली रह जाती है.’

अक्षय ने कहा, ‘आप लोग याद रखिएगा कि Shortcut Can cut Your Life Shortcut. आपको शॉर्टकट नहीं लॉन्ग लास्टिंग फिटनेस चाहिए.’ उन्होंने कहा, फिल्टर जीवन मत जियो, फिटर जीवन जियो’