Mumbai

93 मुंबई बम धमाकों में दोषी मुस्तफा डोसा की हार्ट अटैक आने से उसकी मौत हो गयी. दौसा नें रात में आर्थर रोड जेल अधिकारीयों को छाती में दर्द होने की शिकायत की थी। जिसके बाद उसे जेजे अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया था। मुंबई पुलिस के जॉइंट सीपी देवेन भारती में मुस्तफा डोसा की मौत की पुष्टि की है। दौसा की शिकायत के बाद उसे रात के एक बजे अस्पताल में भर्ती कराया गया था. जंहा पर उसका इलाज चल रहा था। बता दे रात में जब मुस्तफा दौसा की तबियत बिगडनें की ख़बर मिलते ही मुंबई पुलिस के तमाम आला अधिकारीयों में भगदड़ मच गयी थी और देर रात ही मुंबई पुलिस के बड़े बड़े अधिकारी जेजे अस्पताल पहुँच गए थे। अब अस्पताल नें भी मौत की पुष्टी करते हुए बयान जारी किया है। बयान में कहा गया है की – जब मुस्तफा को लाया गया था तो उसे छाती में दर्द के इलावा हाइपरटेंशन और डायबिटीज की भी शिकायत थी। उसके हार्ट के वॉल्व में ब्लॉकेज का परेशानी थी, दौसा अपना बाईपास सर्जरी कराना चाहता था। उसने अपनी हार्ट प्रॉब्लम के बारे में स्पेशल टाडा कोर्ट को बता दिया था। इस मामले में दोषी था मुस्तफा: दौसा ब्लास्ट के लिए हथियार और विस्फोटक मंगवाने का मास्टरमाइंड है। वह रायगढ़ में हथियार लैंड करवाने और आरोपियों को ट्रेनिंग के लिए पाकिस्तान भेजने और साजिश रचने का दोषी था।

0

93 मुंबई बम धमाकों में दोषी मुस्तफा डोसा की हार्ट अटैक आने से उसकी मौत हो गयी. दौसा नें रात में आर्थर रोड  जेल अधिकारीयों को छाती में दर्द होने की शिकायत की थी।  जिसके बाद उसे जेजे अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया था।

मुंबई पुलिस के जॉइंट सीपी देवेन भारती में मुस्तफा डोसा की मौत की पुष्टि की है। दौसा की शिकायत के बाद उसे रात के एक बजे अस्पताल में भर्ती कराया गया था. जंहा पर उसका इलाज चल रहा था। 

बता दे रात में जब मुस्तफा दौसा की तबियत बिगडनें की ख़बर मिलते ही मुंबई पुलिस के तमाम आला अधिकारीयों में भगदड़ मच गयी थी और देर रात ही मुंबई पुलिस के बड़े बड़े अधिकारी जेजे अस्पताल पहुँच गए थे।   

अब अस्पताल नें भी मौत की पुष्टी करते हुए बयान जारी किया है। बयान में कहा गया है की – जब मुस्तफा को लाया गया था तो उसे छाती में दर्द के इलावा हाइपरटेंशन और डायबिटीज की भी शिकायत थी। 

उसके हार्ट के वॉल्व में ब्लॉकेज का परेशानी थी, दौसा अपना बाईपास सर्जरी कराना चाहता था। उसने अपनी हार्ट प्रॉब्लम के बारे में स्पेशल टाडा कोर्ट को बता दिया था। 

इस मामले में दोषी था मुस्तफा:

दौसा ब्लास्ट के लिए हथियार और विस्फोटक मंगवाने का मास्टरमाइंड है।
वह रायगढ़ में हथियार लैंड करवाने और आरोपियों को ट्रेनिंग के लिए पाकिस्तान भेजने और साजिश रचने का दोषी था।

 
Tahir Beig

इन्द्राणी मुखर्जी ने दायर की सीबीआई कोर्ट में अर्जी

Previous article

इन्द्राणी का आरोप लाइट बंद कर की गई पिटाई

Next article

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published.

Close Bitnami banner
Bitnami