अगर आप बकरीद में कुर्बानी के लिए सोच रहे तो पहले ये पढ़िए…

अब मुंबई के लोगों को बकरीद में बकरी के कुर्बानी के पहले बृहन्मुंबई महानगर पालिका को सूचित करना होगा। जिसके लिए मुंबई मनपा एक नया एप्प  लाने जा रही है। इसी एप्प के जरिए बीएमसी को बकरे की कुर्बानी के बारे में बताना अनिवार्य है। बकरे की कुर्बानी के पहले आपको बीएमसी को एप्प के जरिए  अपना नाम, पता,आधार कार्ड,पैन कार्ड पहचान पत्र का नंबर कुर्बानी की तारीख बताना होगा। आपके लॉगिन करते ही और ये जानकारी देते ही आपको तुरंत खुद बा खुद कुर्बानी की इज़ाज़त मिल जाएगी। बताया जा रहा है कि इस कदम से बीएमसी को साफ़ सफाई में असानी हो जाएगी और उन्हें ये भी जानने में असानी हो की बकरे की कुर्बानी किस समय और किदर दी जा रही है। 

इस ऐप को लॉन्च करने के बाद बीएमसी को बकरीद के दिन कितने बकरे कि कुर्बानी दी गई है, इसकी जानकारी भी मिलती रहेगी। मुंबई में बकरीद के दिन देवनार कत्लखाने में ढाई लाख से भी अधिक बकरे आते है। जहां से लोग खरीदकर अपने घर कुर्बानी के लिए ले जाते है।  पिछले साल एक हॉउसिंग सोसायटी में विवाद के चलते मामला बॉम्बे हाई कोर्ट चला गया था, तब अदालत ने बीएमसी के पास सभी कुर्बानी की जानकरी ना होने पर सवाल किया था। इसके पहले बीएमसी कुर्बानी करने वालों को सिर्फ एक रसीद देती थी, लेकिन उसमे पूरी जानकरी नहीं रहती थी। 

मुंबई देवनार कत्ल खाने के प्रबंधक डॉक्टर योगेश शेट्टे ने बताया कि 21 फरवरी तक एप्प  तैयार हो जायेगा. शेट्टे ने आगे बताया कि इस एप्प में जानकारी भरने के बाद बीएमसी कर्मचारी को ये जानकारी मिल जाएगी कि कब और कहाँ कुर्बानी होने वाली है। जिससे उन्हें वहाँ जाकर साफ़ सफाई भी करने में असानी होगी. हालांकि बीएमसी इसे एक सुविधा के तौर पर बता रही है तो वही कुछ लोग ऐसे भी जो कह रहे की इसकी वजह से एक नया विवाद भी पैदा हो सकता है।