Ambani Bomb Scare Case : NIA ने मुंबई पुलिस के इंस्पेक्टर सुनील माने को किया गिरफ्तार

मुंबई में उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर के बाहर एक एसयूवी में विस्फोटक सामग्री मिलने और कारोबारी मनसुख हिरन की हत्या के मामले राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (NIA) ने मुंबई पुलिस के इंस्पेक्टर सुनील माने को गिरफ्तार किया है. एनआईए इस मामले में अब तक तीन पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार कर चुकी है जिनमें निलंबित सहायक पुलिस निरीक्षक सचिन वाजे और उनका सहकर्मी रियाज काजी शामिल हैं.

मिली जानकारी के मुताबिक़ एनआईए ने माने को बृहस्पतिवार को पूछताछ के लिए बुलाया था। जिसके बाद उन्हें गिरफ़्तार कर लिया गया.

केंद्रीय एजेंसी ने पूर्व में दो और लोगों- मुंबई पुलिस के निलंबित कांस्टेबल विनायक शिंदे और क्रिकेट मैच के सटोरिये नरेश गोर- को गिरफ्तार किया था. माने मुंबई पुलिस अपराध शाखा की यूनिट-11 (कांदिवली) का प्रभारी था और अंबानी की सुरक्षा को खतरे के मामले को देखते हुए उसका स्थानांतरण किया गया था.

अधिकारी ने कहा कि एनआईए ने कुछ हफ्तों पहले उसका बयान दर्ज किया था. माने से पूर्व में महाराष्ट्र आतंकवाद निरोधी दस्ते (एटीएस) ने पूछताछ की थी, लेकिन वरिष्ठ अधिकारियों ने तब दावा किया था कि वह जांच में उनके साथ सहयोग कर रहा है.

दक्षिण मुंबई में अंबानी के घर के पास 25 फरवरी को एक एसयूवी से विस्फोटक सामग्री बरामद की गई थी. ठाणे के व्यापारी हिरन ने दावा किया था कि यह उसकी एसयूवी थी लेकिन अंबानी के घर के पास बरामद होने से पहले वो चोरी कर ली गई थी. हिरन का शव ठाणे में एक नाले से पांच मार्च को बरामद किया गया था.