Mumbai

ऑटो में बच्ची में किसी ने लावारिस छोड़ दिया था, एक युवक ने मुंबई पुलिस की मदद से बचाई जान

0

कहते हैं मारने वाले से बचाने वाला बड़ा होता है। मुंबई में किसी ने एक मासूम बच्ची को मरने के लिए एक बंद ऑटो में छोड़ कर चला गया था। लेकिन एक युवक उस नवजात के लिए फरिश्ता बनकर आया और उसने। मुंबई पुलिस की मदद से बच्‍ची को मौत के मुंह में जाने से बचा लिया। इस वक़्त बच्ची मुंबई पुलिस की देख रेख में और खुद पुलिस भी युवक के इस काम की तारीफ़ करते नहीं थक रही है।

 

रविवार रात को भांडुप का रहने वाला अमन करीब दस बजे पैदल चलकर अपने घर की तरफ जा रहा था। जैसे ही वो कांजुर मार्ग से गुज़र रहा था एक बंद ऑटो रिक्शे से उसे बच्चे की रोने की आवाज़ आई। उसने आस पास देखा तो वहां कोई नहीं था। और देखने से ही लग रहा था की ऑटो काफी दिनों से बंद पड़ा है। फिर उसे मोबाइल की लाइट की मदद से अंदर देखा तो वहां एक नवजात बच्ची पड़ी थी। अमन ये समझ चूका था की किसी ने बच्ची को वहां जान बूझकर मरने के लिए छोड़ा है।

View image on TwitterView image on Twitter

Found this 3 to 5 day year old kid in closed auto. Please help me guys. I’ve no idea what to do? 

Call police bro.
If you are alone I will suggest you get someone with you. And I hope you are in a safe place and not someplace dark.

Cops are not responding. The baby is shivering

Cops are not responding. The baby is shivering

Cops are not responding? What do you mean? Nobody is picking up call? @MumbaiPolice please look into this… This is urgent.

Found this 3 to 5 day year old kid in closed auto. Please help me guys. I’ve no idea what to do?  pic.twitter.com/ZBHg8xdLNz

We have followed you. Please DM us your contact details.

अमन ने वहां खड़े कुछ लोगों से मदद भी मांगी लेकिन कोई सामने नहीं आया। इसके बाद अमन ने ट्वीटर पर मुंबई पुलिस से मदद मांगी। मुंबई पुलिस की तरफ से भी फ़ौरन जवाब आया। सोशल मीडिया से मिली जानकारी के बाद पुलिस की एक टीम फ़ौरन मौके पर पहुंची। पुलिस ने बच्ची को अपनी निगरानी में ले लिया और उसे थाने लाया गया।

लेकिन पूरे घटनाक्रम से युवा अमन बेहद निराश है उसने ट्वीटर पर लिखा, ‘अफ़सोस की लोग इतना घटिया काम कर सकते हैं। ‘

साथ ही अमन लगातार बच्ची को लेकर भी अपडेट देता रहा, उसने आगे लिखा की ‘बच्ची अब स्वस्थ है और उसने रोना भी बंद कर दिया है।’ अमन के इस नेक काम सोशल मीडिया पर जमकर प्रशंसा हो रही है। लोग लिख रहे हैं की आम तौर पर हर एक आदमी मदद की बजाय भीड़ की शकल ले लेता है। लेकिन आमन ने ऐसा नहीं किया। उसके इस जज़्बे को सलाम।

We have followed you. Please DM us your contact details.

 

The baby is safe with mumbai Police now I’m in kanjumarg east police station. pic.twitter.com/FM932Xez69

View image on Twitter

Found this 3 to 5 day year old kid in closed auto. Please help me guys. I’ve no idea what to do?  pic.twitter.com/ZBHg8xdLNz

For all who’s asking for baby’s health. She’s just doing fine. She’s Stopped shivering too! pic.twitter.com/qYbqd9IfYW

View image on Twitter

 

Tahir Beig

आरपीएफ जवान ने जान जोखिम में डालकर बचाई एक शख्स की जान

Previous article

हफ्ता वसूलने के मामले में मुंबई का फर्जी पत्रकार गिरफ्तार

Next article

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published.

Close Bitnami banner
Bitnami