चलती लोकल ट्रेन पकड़ने के चक्कर में मौत के मुँह में जा पहुँची थी महीला

अकसर जल्दबाजी में ट्रेन पकड़ने के चक्कर में लोग अपनी जान को जोखिम में डालते है। लोकल ट्रेन में सफर करने वाले यात्री कई बार अपनी छोटी सी गलती की वजह से अपनी जान गवां बैठते है। इसमें बड़े ही नसीब वाले ही लोग होते जो मौत के मुहं से सही सलामत बाहर आ पाते है। ऐसे ही एक खुश नशीब महिला की मौत से हुई जंग की तस्वीर नालासोपारा के प्लेट फॉर्म नम्बर 2 पर लगे सीसी टीवी में कैद हुई है। जिसमे साफ साफ दिख रहा है कि किस तरह बुजुर्ग महिला अपनी बेटी के साथ चलती लोकल को पकड़ने की कोशिश करती है मगर लोकल की रफ्तार तेज होने की वजह से वो लोकल में चढ़ नही पाई और दरवाजे के साथ खिंचती हुई कुछ दूर तक चली गई।इससे पहले की उसका हाथ छूटता और वो लोकल ट्रेन के नीच जाती प्लेटफार्म पर मौजूद एक रेलवे पुलिस के कर्मचारी ने महिला को पकड़ कर बाहर खिंच लिया और महिला मौत के मुह से वापस बाहर सही सलामत आ गई।

घटना शुक्रवार रात 9 बजकर 15 मिनट की है।महिला की जान बचाने वाले पुलिस सब इंस्पेक्टर गोपालकृष्ण राय की माने तो बोरीवली की रहने वाली लता माहेश्वरी नामक महिला अपनी बेटी के साथ जैसे ही 2 नम्बर प्लेटफार्म पर पहुंचे वैसे ही ट्रेन प्लेटफार्म पर आ गई।महिला की बेटी आगे थी इसलिए वो लोकल में चढ़ गई मगर जैसे ही लता महर्श्वरी लोकल में चढ़ने लगी लोकल शुरू हो गई जिसकी वजह से लता महर्श्वरी लोकल में चढ़ नही पाई और लोकल के दरवाजे पर लगा हैंडल पकड़ कर ट्रेन के साथ घसीटती हुई चली गई जैसे लोगो ने चिल्लाना शुरू कर दिया तभी मेरी नज़र महिला पर पड़ी मैं भागता हुआ उनके पिछे गया और उन्हें खिंच कर किसी तरह ट्रेन के नीचे जाने से बचा लिया।