MumbaiTop Stories

VIDEO : पुलिस की सतर्कता से बची नाबालिक लड़के की जान, होली खेलते खेलते बिल्डिंग के खड्डे में गिर गया था

0

मुंबई के डिंडोशी पुलिस ने जो कार्य किया है, उसे सुनने के बाद आप भी पुलिस की तारीफ़ करते नहीं थकेंगे। गोरेगांव पूर्व डी बी वुड काम्प्लेक्स में 55 मंजिला इमारात में विशाल टोडी नामक बिज़नेस मैन अपने परिवार के साथ रहते थे। होली की सुबह विशाल का बेटा दृश्या (१०) सोसाइटी के बच्चों के साथ बिल्डिंग के निचे होली खेलने के लिए गया हुआ था। होली खेलते खेलते वहां से लापता हो गया। सभी बच्चों को लगा की दृश्य घर लौट गया है। दोपहर हो गयी सब बच्चे होली खेल अपने अपने घर लौट गए थे। लेकिन दृश्य घर नहीं लौटा। उसके बाद दृश्य के माता पिता उसकी तलाश में घर से बाहर निकले उन्हें दृश्य नहीं दिखाई दिया। काफी छान बिन करने के बाद दृश्य के माता पिता ने उसकी गुमशुदगी की शिकायत डिंडोशी पुलिस में दर्ज करवाई।

मुंबई: बिल्डिंग के 40 फीट गहरे गैप में 9 घंटे फंसा रहा बच्चा, ऐसे बचाई गई जान

मुंबई: बिल्डिंग के 40 फीट गहरे गैप में 9 घंटे फंसा रहा बच्चा, ऐसे बचाई गई जान

शिकायत मिलते ही ढिंढोसी पुलिस मौके पर पहुंची दृश्य की तलाश में जुट गई। काफी खोजबीन के बाद जब दृश्य का कोई अता पता नहीं चला तो जोन 11 के डीसीपी विनय राठोड मौके पर पहुंचे दृश्य के खोजबीन की जिम्मेदारी खुद संभाली। सबसे पहले डीसीपी ने इमारत और उसके आस पास के परिसर में लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगालना शुरू किया। सीसीटीवी में विनय राठोड ने देखा की दृश्य बिल्डिंग के गेट के बाहर गया ही नहीं है। डीसीपी विनय राठोड को शक हुआ की दृश्य बिल्डिंग के सुनसान जगह पर हो सकता है। उसके बाद उन्होंने इमारत के सुनसान जगहों पर दृश्य को खोजने लगे। इसी बीच उन्होंने इमारत के ४0 फ़ीट खड्डे में टॉर्च मारकर देखा तो खड्डे में दृश्य पड़ा था। जिसके बाद खुद विनय राठोड खड्डे में उतरे और उसे अपने कंधे पर उठाकर उसे बाहर निकाला। एक डीसीपी द्वारा किये गए इस कार्य की चारों तरफ तारीफ़ ही तारीफ की जा रही है।

एनआरआई महिला के कमरे से लाखों रूपए की अंगूठी चोरी,जिमखाना का कर्मचारी गिरफ्तार

Previous article

टुकड़ों में काटा गया महीला इंस्पेक्टर की बॉडी, आरोपियों का सनसनीख़ेज़ ख़ुलासा

Next article

Comments

Comments are closed.

Close Bitnami banner
Bitnami