एलिफिस्टन हादसे के बाद हरकत में आई रेलवे पुलिस, भीड़ वाले ब्रिज पर संभलकर चलने की दे रही हिदायत

एलिफिस्टन रेलवे स्टेशन पर शुक्रवार को मची भगदड़ में 23 यात्रियों की मौत के बाद रेलवे प्रसाशन सतर्क दिखाई दे रहा है। एक तरफ रेलवे के आला अधिकारी रुके हुए कामो को जल्द से जल्द पूरा करने में जुट गया है तो वहीं दूसरी तरफ कुर्ला आरपीएफ यात्रिओ की भीड़ को देखते हुए फुटओवर ब्रीज़ की सीढ़ियों के बीच मे चढ़ने और उतरने का रास्ता बनाने में जुट गई है। मुंबई के भीड़ भाड़ वाले कुर्ला स्टेशन पर खड़े हो कर आरपीएफ के लोग सीढ़ियों के बीच मे पीला और सफ़ेद खींच रहे हैं। ताकि लोग भीड़ में भी कतारबद्ध होकर चढ़ें उतरें। साथ ही आरपीएफ इंस्पेक्टर लाउडस्पीकर से लोगों से आह्वान कर रहे है कि चढ़ने और उतरने वाले दाग का इस्तेमाल कर चढ़े और उतरे जिस से यात्रियों को किसी तरह की परेशानी नही होगी।

हालांकि यात्री आरपीएफ के इस काम से संतुष्ट नही हैं। उन्हें लगता है कि भीड़ इतनी होती है कि यात्री नीचे डाले गई लाइन पर ध्यान ही नही देगी। यात्रियों को लगता है कि किसी तरह वो ट्रेन पकड़ ले या फिर स्टेशन से बाहर निकले। लेकिन कुछ ऐसे यात्री भी थे जिनका मानना था की यात्रियों को सजग होना पड़ेगा, पैनिक नही होना चाहिए।

ये भी सच है कि जिस तरह ट्रेन आने के बाद प्लेटफ़ॉर्म पर भीड़ होती है, उसके बाद सीढियो पर डाले गए लाइन पर किसी का नज़र नही जाएगा। फिर भी हमे आरपीएफ की इस कोशस को नज़रंदाज़ नही करना चाहिए।