EXCLUSIVE : मुश्किल में `हसीना` इक़बाल कासकर की गिरफ्तारी के बाद फंडिंग की होगी जांच

एक्ट्रेस श्रद्धा कपूर की फिल्म हसीना पारकर जल्द रिलीज़ होने वाली है। लेकिन ठीक उससे पहले “हसीना’ इक़बाल कासकर की गिरफ्तारी के बाद पुलिसिया जांच के दायरे में आ गई है। अब ठाणे पुलिस फिल्म हसीना पारकर की फंडिंग की जांच कर रही है। उन्हें शक है की फिल्म में डी परिवार का ही पैसा लगा है।गिरफ्तार इक़बाल कासकर ने भी इस बारे में कई अहम खुलासे किए हैं। यह फिल्म दाऊद इब्राहिम की बहन पर बनी है।

अगर ठाणे एंटी एक्सटॉर्शन सेल की मानें,तो इस बारे में जल्द ही उन तमाम लोगों से पूछताछ होगी जो इससे जुड़े हैं। चाहे फिल्म की अभिनेत्री श्रद्धा कपूर ही क्यों ना हो ? सूत्र बताते हैं की मामले की जांच कर टीम के पास इस बाबत कई अहम जानकारी हाँथ लगी है। और जल्द ही ज़रुरत पड़ी तो फिल्म निर्माताओं से लेकर फिल्म हसीना से जुड़े तमाम लोगों को नोटिस भेजकर पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा।

Image Dawood Daughter

अगर ठाणे पुलिस के एक वरीय अधिकारी की मानें, पुलिस को शक फिल्म में दाऊद परिवार ने ही पैसा लगाया है। इतना ही नहीं फिल्म से जुडी कई चीज़ें उनकी तरफ से ही तय की गई थी। सूत्र बताते हैं कि जैसे ही हसीना पारकर ने अपनी ज़िंदगी पर फिल्म बनाने की हामी दी, इसके बाद फिल्म की पूरी स्क्रिप्ट पाकिस्तान में भी दाऊद के लोगों को भेजी गयी थी। फिल्म के एक एक हिस्से को खुद दाऊद की बड़ी बेटी महरूक ने पढ़ी थी।महरूक के इसारे पर इस फिल्म में कुल 127 बदलाव भी किये गए है.इसके इलावा इसकी कॉपी मुंबई में उन प्रोडूसरों तक भी पहुंचाई गई जो अब तक डी कंपनी के पैसों पर फिल्म बनाते रहे हैं।

पूछताछ में इक़बाल ने माना है कि परिवार के सभी लोगों की रज़ामंदी के बाद ही फिल्म बनी है। स्क्रिप्ट पढ़ने के बाद फिल्म में कई सारे बदलाव कराए गए थे।ये बदलाव भाई के इशारे पर ही हुए थे। हमने ही सबसे पहले ही ये बताया था कि इक़बाल की गिरफ्तारी के बाद एक बार फिर अंडरवर्ल्ड और बॉलीवुड का कनेक्शन सामने आया है।इक़बाल से जो पूछताछ हुई है उसके बाद ये सामने आया था की हफ्ताखोरी से वसूले गए पैसों का एक बड़ा हिस्सा इक़बाल ने फिल्म निर्माण में लगाया था।और आने वाली चार फिल्में ठाणे पुलिस के रडार पर आ गयी हैं। फिलहाल ठाणे पुलिस का एंटी एक्सटॉर्शन सेल इस शुक्रवार को रिलीज़ होने वाली फिल्म ‘हसीना पारकर’ से जुड़े तमाम कागज़ातों की जांच में जुटी है।

दरअसल इस पूरे मामले की जांच की एक बड़ी वजह है। हसीना पारकर के देवर इक़बाल पारकर की गिरफ्तारी। सूत्र बताते हैं की हसीना ने जब अपने ऊपर फिल्म बनाने के लिए हामी भरी थी तो गोरेगांव के एक फ़्लैट में हसीना पारकर, अपूर्वा लाखिया के इलावा इक़बाल पारकर भी मौजूद था। हसीना की मौत के बाद भी इक़बाल ही निर्माताओं के संपर्क में था।