Mumbai

खतरे में है मुंबई पुलिस !

0

जो पुलिस वाले हमारी और शहर की सुरक्षा के लिए अपना कुछ लूटा देते हैं आज वो खुद खतरे में हैं। कभी तनाव में आकर ख़ुदकुशी तो कभी बीमारी से उनकी मौत की खबरें आती रहती हैं। हर बार उनकी बेवक़्त मौत की वजह जो सामने आती रहती है वो है तनाव। लगातार ड्यूटी और तनाव अब उनके लिए जानलेवा बन रहा है। 

खुद आला अफसर भी ये मान रहे हैं की, किसी भी तरह की विपरीत परिस्थितियों में पुलिसकर्मियों के हाथों में ही शहर के लोगों की सुरक्षा की कमान सौंपी जाती है, लेकिन मौजूदा हालातों में इन्हीं पुलिसकर्मियों की जान सांसत में पड़ गई है। अब इससे ही निपटने के लिए नयी रणनीति तैयार कि जा रही है ताकि वो अपनी रोज़मर्रा की ज़िन्दगी में अपने परिवार और काम में संतुलन बनाए रखें। इसलिए अब पुलिसवालों के लिए हेल्पलाइन शुरू की गई है। ताकि वो अपनी समस्यायों को बात करके निबटा सकें। इस हेल्पलाइन के लिए टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ सोशल साइंस (टिस) की मदद ली गई है। 

यहाँ आने वाले पुलिसकर्मी , काम के तनाव, आराम की कमी, राजनीतिक दबाव, वरिष्ठ अधिकारियों के व्यक्तिगत दबाव जैसी समस्याओं पर खुलकर बात करेंगे। जिसके बाद कॉउंसलर अपने तरीके से उनको ऐसी समस्या से कैसे लड़ना है ये बताएँगे। उन्हें स्ट्रेस यानी दबाव कैसे काम करना चाहिए इसे लेकर भी कई ऐसी बातें बताई जायेगी। ज़रुरत पड़ने पर उनके परिवार को इन कोउसनेलिंग की जायेगी।

खुद आंकड़ों की मानें तो इन वजहों से पिछले पांच सालों में करीब 200 से अधिक पुलिसकर्मियों ने जान जा चुकी है। अब तो ये बात भी साफ हो गई है कि काम का दबाव और सुविधाओं का अभाव उनके लिए जानलेवा साबित हो रहा है। आला अधिकारी भले ही दुनियाभर की जांच और प्रशिक्षण की बातें कर रहे हैं, लेकिन मैदान में काम करने वाले पुलिसकर्मियों के मुताबिक सबकुछ नाकाफी साबित हो रहा है। 

खुद आला अफसर भी ये मान रहे हैं की, किसी भी तरह की विपरीत परिस्थितियों में पुलिसकर्मियों के हाथों में ही शहर के लोगों की सुरक्षा की कमान सौंपी जाती है, लेकिन मौजूदा हालातों में इन्हीं पुलिसकर्मियों की जान सांसत में पड़ गई है। अब इससे ही निपटने के लिए नयी रणनीति तैयार कि जा रही है ताकि वो अपनी रोज़मर्रा की ज़िन्दगी में अपने परिवार और काम में संतुलन बनाए रखें। इसलिए अब पुलिसवालों के लिए हेल्पलाइन शुरू की गई है। ताकि वो अपनी समस्यायों को बात करके निबटा सकें। 

मुंबई पुलिस के कांस्टेबल ने कार चढ़ाकर की जान से मारने की कोशिश

Previous article

खुद देखिये पाखंडी ओम बाबा की असलियत

Next article

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published.

Close Bitnami banner
Bitnami