Mumbai

मुंबई को भिखारियों से है खतरा

0

कानपूर रेल हादसे और उज्जैन भोपाल ट्रैन धमाके के बाद सुरक्षा एजेंसियां हरकत में आ गयीं हैं। अलर्ट जारी कर कहा गया है की देश की आर्थिक राजधानी मुंबई की लाइफलाइन कही जाने वाले लोकल ट्रेनें आतंकियों के निशाने पर है। आतंकी संघटन इस साज़िश को अंजाम देने के लिए भिखारियों का रूप धार कर साज़िश को अंजाम दे सकते हैं। इस लिए चिट्टी में लिखा गया है की रेलवे स्टेशन या पटरियों के पास की सुरक्षा बढ़ाई जाए, और जो बिखारी या हॉकर रहते हैं है उन पर पैनी नजर रखी जाए, और किसी को भी पटरियों के पास जाने की अनुमति नहीं हो। 

 इस खुलासे के बाद  सेंट्रल, हार्बर और वेस्टर्न लाइंस के सभी स्टेशनों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करने के आदेश दे दिए गए हैं। गौरतलब है की मुंबई में रोजाना 65 लाख यात्री लोकल ट्रेनों से सफर करते हैं।  उज्जैन भोपाल ट्रैन धमाके के बाद हमले के बाद जारी अलर्ट में कहा गया है कि आतंकी ज्यादा से ज्यादा नुकसान पहुंचाने के लिए लोकल ट्रेनों में सफर करने वाले मुसाफिरों को निशाना बना सकते हैं।

इस अलर्ट के बाद रेलवे पुलिस पहले से ज्यादा सतर्क हो गई है। मुंबई लोकल की तीनो रूटों- सेंट्रल, हार्बर और वेस्टर्न लाइंस की सुरक्षा बड़े पैमाने पर बढ़ा दी गई है। सभी रेलवे स्टेशनों पर अतिरिक्त पुलिस बंदोबस्त लगाया लगाया गया है। स्टेशनों पर सरप्राइज चेकिंग के अलावा प्लेटफॉर्म पर आने-जाने वाले यात्रियों की बाकायदा तलाशी ली जा रही है।

जीआरपी और आरपीएफ के कमांडो फोर्स को भी पेट्रोलिंग बढ़ाने के आदेश दे दिए गए हैं। जीआरपी की डिसीपी रुपाली अंबुरे के मुताबिक हमने सुरक्षा बढ़ा दी है। जगह-जहग चेकिंग की जा रही है। 

Image result for Terror attack on Mumbai Local

मुंबई की लोकल ट्रेनों आतंकी इसके पहले भी 2006 और 2008 में लोकल ट्रेनों और स्टेशनों को निशाना बना चुके है। साल 2006 में आतंकियों ने लोकल ट्रेनों में सीरियल धमाके कराए थे। वहीं साल 2008 में कसाब और उसके साथी ने सीएसटी स्टेशन पर मौजूद यात्रियों को अपनी गोली का शिकार बनाया था। फिर एक बार आतंकी अपने नापाक मंसूबों में कामयाब नहीं हो बंदोबस्त बढ़ाने के साथ-साथ पुलिस ने लोकल ट्रेनों में सफर करने वाले मुसाफिरों से भी गुजारीश की है कि वो सफर के दौरान अपने आंख-कान खुले रखे।

आसमान में यात्रियों की जान से खिलवाड़ कर रहे हैं पायलट।

Previous article

प्रेमी जोड़े के खिलाफ तालिबानी फरमान, शहर छोड़ो वरना ले ली जायेगी जान

Next article

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published.

Close Bitnami banner
Bitnami