MumbaiTop Stories

हिंसा के बाद मुंबई में जिग्नेश और उमर खालिद के कार्यक्रम को पुलिस ने किया रद्द

0

दलितों द्वारा आहूत किए गए महाराष्ट्र बंद के अगले दिन गुरुवार को मुंबई पुलिस ने एक समारोह को रद्द कर दिया है, जिसमें हाल ही में विधायक बने गुजरात के दलित नेता जिग्नेश मेवानी तथा दिल्ली की जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी के उमर खालिद को शिरकत करनी थी. पुलिस ने कार्यक्रम के आयोजक विद्यार्थियों को भी सावधानीवश हिरासत में ले लिया है.

दक्षिणपंथी गुटों ने जिग्नेश मेवानी और उमर खालिद पर राज्य में जातीय तनाव भड़काने का आरोप लगाया है. मंगलवार को जब मुंबई में कथित रूप से दलित समर्थक प्रदर्शनकारी सड़क तथा रेल यातायात को बाधित कर रहे थे, पुणे पुलिस के पास जिग्नेश मेवानी के खिलाफ केस दर्ज करवाया गया था.

शिकायत में कहा गया है कि जिग्नेश मेवानी और उमर खालिद ने 31 दिसंबर को ‘एलगर परिषद’ नामक कार्यक्रम में शिरकत की, जो भीमा-कोरेगांव युद्ध की 200वीं वर्षगांठ मनाने के लिए आयोजित किया गया था. इसके अगले ही दिन, 1 जनवरी को जश्न में शामिल होने गांव पहुंचे दलितों तथा कुछ स्थानीय दक्षिणपंथी गुटों के बीच झड़पें हो गईं. इन हिंसक झड़पों में 28-वर्षीय एक मराठा युवक मारा गया, और 12 अन्य लोग ज़ख्मी हो गए.

पुणे हिंसा : बंद के दूसरे दिन भी दलित समाज के लोगों ने ठाणे में लोकल रोकने की कोशिश की

Previous article

एक बार फिर नजर आया ‘ये है मोहब्बतें’ की इस एक्ट्रेस का हॉट अंदाज़, देखें तस्वीरें

Next article

Comments

Comments are closed.

Close Bitnami banner
Bitnami