CrimeMumbaiTop StoriesVideo

VIDEO: पॉश इमारत के सेफ्टी टैंक में मिले इंसान के 500 टुकड़े, चंद घंटे में ही पुलिस क़ातिल तक पहुंची

0

मुंबई से सटे विरार इलाके में 500 से ज्यादा इंसानी शरीर के टुकड़े के मिलने के मामले को पुलिस ने महज़ कुछ ही घंटे में ही सुलझा लिया है. पुलिस ने इस मामले में एक शख्स को गिरफ्तार किया है. जिसपर आरोप है की उनसे पैसों के लें दें को लेकर एक शख्स की हत्या की और फिर उसके लाश के 500 टुकड़े कर उसे बिल्डिंग के सेफ्टीटैंक में फेंक दिया था. मामला तब सामने आया था जब ईमारत से सड़न की बू आने लगी थी. जांच करने पर पुलिस को शव के कई टुकड़े मिले थे .

Ganesh Kolhatkar

इस मामले में पुलिस ने एक शख्स को गिरफ्तार किया है. जिसने ये क़ुबुल किया है की पैसों की लेन देन और पीड़ित की शादी से चिढ़कर इस वारदात को अंजाम दिया है. आरोपी ने अपने क़ुबूल नाम में ये भी खुलासा किया है की उसने पीड़ित गणेश कोल्हटकर के शव को दो दिन तक बैठकर काटा था और बाद में उसे टॉयलेट के फ्लश से बहा दिया था. जो बचे कूचे हड्डी और शव के टुकड़े थे उसे उसने बिल्डिंग के बाहर ले जाकर फेंक दिया था.

पुलिस के मुताबिक, जैसे ही कटी हुई लाश मिलने की उन्हें खबर मिली थी सबसे पहले पुलिस ने उन लोगों की तलाश शुरू की जिन्होंने नए फ़्लैट लिए थे. या फिर अपने घर से बाहर थे. इस बीच पुलिस को किआ फ्लैट्स बंद पड़े मिले. फिर एक एक कर सभी फ्लैट को खोले गए तब जाकर उन्हें एक फ़्लैट से इंसानी हड्डी का टुकड़ा मिला . जिसके बाद पुलिस ने आरोपी को बहाने से बुलाया और उसे गिरफ्तार कर लिया.

आरोपी ने पुलिस को बताया की पीड़ित का नाम गणेश कोल्हटकर है. गणेश, प्रिंटिंग प्रेस चलाता था और उसने आरोपी से एक लाख उधर ले रखा था. 40 हज़ार तो उसने लौटा दिया लेकिन बाकी के पैसे नहीं लौटा रहा था. दोनों के बीच इसी बात को लेकर अनबन चल रही थी. लेकिन आरोपी तब और गुस्से में आ गया जब उसे ये पता चला की पीड़ित जिसकी उम्र 58 साल है वो शादी कर रहा है. इसके बाद उसने गणेश पर एक डंडे से हमला किया फिर घर में रखे चाकुओं से तीन दिन तक शव को बोटियों में काट काट कर बहाता रहा. आरोपी के निशानदेही पर पुलिस ने पीड़ित से जुड़े कई और सामान भी बरामद किया है.

500 टुकड़े में मिली थी लाश

मुंबई से सटे विरार इलाके की एक पॉश सोसायटी ग्लोबल सिटी में बजराज पैराडाइज के सेफ्टी टैंक में इंसान के शव के छोटे छोटे टुकड़े मिले थे. इस वारदात की खबर लगते ही पूरे इलाके में सनसनी फैल गयी है. इस बात की सूचना पुलिस को तब मिली जब सोसायटी के लोगों को ड्रेनेज सिस्टम से खूब बदबू आने लगी. ड्रेनेज को ठीक करने वाले शख्स को बुलाया गया तो इंसान के शरीर के छोटे छोटे टुकड़े कर के सेफ्टिक टैंक में फेंके गए थे. शव के ये टुकड़े पॉश बिल्डिंग के सेफ्टिक टैंक में मिली थी.

देश में पहली बार बिकेगा ऊंटनी का दूध , अमूल ने किया पहल

Previous article

ISIS के आतंकियों के निशाने पर था प्रयागराज का कुम्भ, महाराष्ट्र ATS का बड़ा खुलासा

Next article

Comments

Comments are closed.

Login/Sign up
Bitnami