Maharashtra/GoaMumbaiTop Stories

पुणे भीमा कोरेगांव की आग मुंबई में , उग्र हुआ दलित समाज

0

पुणे के भीमा कोरेगांव में हुए हिंसा की आग पुरे महाराष्ट्र में फैलते जा रही। मुंबई में भी जगह जगह दलित समाज के लोगों ने विरोध प्रदर्शन और तोड़ फोड़ किया है। मुंबई के चेंबूर ,विक्रोली, कंजूरमार्ग, घाटकोपर, भांडुप में दलित समाज ने सड़क पर उतरकर विरोध प्रदर्शन किया है। हिंसा के विरोध में दुकानों को बंद कराया जा रहा है। वही समाज ने मुंबई के चेम्बूर हरबर लाइन में रेल रोको आंदोलन किया, जिसकी वजह से कुछ समय के लिए हरबर लाइन ठप कर दिया गया है।

आंदोलन कर रहे लोगों को तीतर बितर करने गई पुलिस पर भी आंदोलनकारियों ने हमला कर दिया। पुलिस आंदोलनकारियों की धड़पकड़ शुरू कर दी है। मुंबई में कई जगह धारा 144 लगा लगा दिया गया है।वही आंदोलनकारियों ने कामराज नगर में बीच सड़क पर आगजनि की है।

क्या है मामला

महाराष्ट्र के पुणे में अंग्रेजों की जीत का जश्न मनाने पर हिंसा हुई थी। हिंसा में एक की मौत हो गई है। जबकि 25 से अधिक गाड़ियां जला दी गईं और 50 से ज्यादा गाड़ियों में तोड़-फोड़ की गई। भीमा कोरेगांव में दलित संगठनों ने पेशवा बाजीराव द्वितीय की सेना पर अंग्रेजों की जीत का शौर्य दिवस मनाया था।

दरअशल ये शौर्य दिवस इसलिए मनाया गया था, क्योंकि 1 जनवरी 1818 में कोरेगांव भीमा की लड़ाई में पेशवा बाजीराव द्वितीय पर अंग्रेजों ने जीत दर्ज की थी. इस दिवस में कुछ संख्या में दलित भी शामिल थे. इसी बात को लेकर कई गांव के लोगों और दलितों में संघर्ष हुआ, जिसमें एक की मौत हो गई.

सीएम ने की शांति की अपील

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने लोगों से अपील की है कि वह शांति बनाए रखें और अफवाहों पर ध्यान न दें। सीएम फड़णवीस ने बताया है कोरेगांव हिंसा की न्यायिक जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दी जाएगी। साथ ही युवाओं की मौत के मामले में सीआईडी जांच होगी। राज्य सरकार ने मृतकों के परिवार को 10 लाख का मुआवजा देने का एलान किया है।

Rahul Pandey

पुणे बैंगलोर हाईवे पर सड़क हादसा तीन महिलाओं की मौत

Previous article

नई ईयर सेलिब्रेशन के मौके पर कुछ यूँ नज़र आई राखी सावंत और सना खान

Next article

Comments

Comments are closed.

Close Bitnami banner
Bitnami