तटरक्षक बल ने संकट में फंसी नौका से चार नाविकों को बचाया

भारतीय तटरक्षक बल (आईसीजी) ने ओमान जा रही एक नौका से संकट में फंसे होने का संदेश मिलने के बाद मुंबई तट के पास चार लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला. इंजन फेल होने की वजह से नौका अपने निर्धारित मार्ग से अलग हटकर बहने लगी थी, जिसके बाद संकट में फंसे होने का अलर्ट भेजा गया था.

तटरक्षक बल के समुद्री बचाव समन्वय केंद्र (एमआरसीसी) के मुताबिक, उसे ‘लेडी थुराया’ नाम की नौका से 31 मई को अलर्ट प्राप्त हुआ था. यह नौका ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड में पंजीकृत है और माले से ओमान के सलाला जा रही थी. यह मुंबई से 590 मील की दूरी पर थी.

एमआरसीसी की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि अलर्ट पर हरकत में आकर तटरक्षक बल ने अंतरराष्ट्रीय संरक्षा जाल तैयार किया, जिसमें आसपास के जहाजों से अनुरोध किया गया कि वे संकट में फंसी नौका को तलाशें.

यूएई की यात्रा पर जा रहा एक कारोबारी पोत एमवी सीकॉर डायमंड शनिवार को वीएचएफ पर तैर रही नौका से संपर्क साधने में सफल रहा और तटरक्षक बल का एमआरसीसी उसका मार्गदर्शन लगातार करता रहा. एमआरसीसी ने कहा कि आखिरकार रविवार दोपहर उस नौका को मुंबई से 390 मील की दूरी पर ढूंढ़ निकाला गया. उसमें सवार सभी लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया.

भाषा